comScore

महाराष्ट्र के कोपार्डी गैंगरेप मामले में 3 दोषियों को फांसी की सजा 

November 29th, 2017 17:21 IST

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र के अहमदनगर सत्र न्यायालय ने कोपार्डी गैंगरेप केस में 3 आरोपियों को दोषी पाते हुए फांसी की सजा सुनाई है। गौरतलब है कि 15 वर्षीय लड़की से गैंगरेप और हत्या के मामले में अहमदनगर सेशन कोर्ट ने 3 आरोपियों को दोषी पाया था। इसके बाद बुधवार को मामले में कोर्ट ने सभी आरोपियों को मौत की सजा सुनाई। 

गौरतलब है कि 13 जुलाई, 2016 की शाम अहमदनगर के कारजात तालुके के कोपार्डी गांव में सामान लेकर लौट रही लड़की के साथ 3 लोगों ने रास्ते में पकड़कर उसके साथ गैंगरेप किया था। रेप के बाद पीड़िता की गला घोंटकर हत्या कर दी गई थी।



वहीं सेशन कोर्ट ने बुधवार को गैंगरेप और हत्या के मामले में दोषी बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भावल और नितिन गोपीनाथ भाईलुमे को मौत की सजा सुनाई। पीड़िता की ओर से पैरवी महाराष्ट्र सरकार द्वारा नियुक्त वकील उज्‍जवल निकम ने की। इससे पहले पीड़िता के परिवार ने दोषियों को मौत की सजा दी जानी की इच्छा जाहिर की थी। मामले में तीनों आरोपियों को गैंगरेप, आपराधिक षडयंत्र रचने और हत्या के अलावा POCSO की धाराओं के तहत दोषी पाया गया था। पीड़िता के पूरे शरीर पर चोट के निशान पाए गए थे।

घटना के विरोध में पूरे महाराष्ट्र में हुए थे विरोध-प्रदर्शन


15 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ घटी घटना के विरोध में पूरे महाराष्ट्र में विरोध-प्रदर्शन हुए थे। मराठा समुदाय ने पूरे महाराष्ट्र में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शनों का आह्वान किया था। गौरतलब है कि पीड़िता मराठा समुदाय की ही थी, जबकि आरोपी दलित समुदाय के हैं।

फास्ट ट्रैक कोर्ट में हुई पूरी सुनवाई


विरोध प्रदर्शनों और स्थिति की गंभीरता को देखते हुए सीएम फडणवीस ने मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में करवाए जाने का निर्देश दिया था। साथ ही विशेष लोक अभियोजक उज्ज्वल निकम को पीड़िता का केस लड़ने के लिए नियुक्त किया गया था।



कोपर्डी गैंगरेप और मर्डर केस


बीते साल अपने दादा से मिलकर घर लौटते वक्त 15 साल की नाबालिग लड़की को मुख्य आरोपी जितेंद्र शिंदे ने अगवा कर लिया था। इसके बाद शिंदे ने लड़की के साथ रेप किया और उसे टॉर्चर भी किया। बाद में शिंदे ने अपने दोस्तों को भी बुला लिया। इसके बाद तीनों आरोपी लड़की को सुनसान इलाके में घसीटकर ले गए और उसकी हत्या कर दी।यह घटना दिल्ली के निर्भया कांड जैसी ही भयावह घटना थी। लड़की के बाल खींचे गए थे, उसके दांतों को तोड़ दिया गया था और उसके शरीर पर दांतों से काटने के निशान थे।

Loading...
कमेंट करें
3SJG7
Loading...