comScore

नागपुर में तेजी से बढ़ रहा लेडी गैम्बलिंग कल्चर ,किटी पार्टी की आड़ में महिलाएं खेल रही जुआ

नागपुर में तेजी से बढ़ रहा लेडी गैम्बलिंग कल्चर ,किटी पार्टी की आड़ में महिलाएं खेल रही जुआ

डिजिटल डेस्क,नागपुर। किटी पार्टी की आड़ में महिलाओं का जुआ अड्‌डा चलने लगा है। इन अड्‌डाें से क्रिकेट बुकी व प्रापर्टी डीलर भी जुड़े रहते हैं। नागपुर में तेजी से लेडी गैम्बलिंग कल्चर बढ़ने लगा है। कई बड़े होटलों के अलावा रेस्टारेंट्स में खास आयोजन होने लगा है। विशेषकर वीकेंड अर्थात् शनिवार या रविवार को जुआ पार्टी के लिए टाइम फिक्स रहता है। जरीपटका में महिलाओं के जुआ अड्‌डा पर छापामार कार्रवाई में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आ रहे हैं।

जुआ खेलते हुए पकड़ाई महिलाएं
जरीपटका पुलिस ने दयानंद पार्क के पास मोहन उर्फ कालू वाधवानी के अड्‌डे से महिलाओं को जुआ खेलते हुए पकड़ा है। आरोपियों में कालू की पत्नी रेणु साधवानी, मीना हिरानी, सीमा गिदवानी उर्फ चेलानी, ज्योति हरजानी शामिल हैं। उनके पास से ताश के पत्ते व 3660 रुपये नकद बरामद किए गए हैं। इससे पहले 2015 व 2018 में भी बड़ी छापामार कार्रवाई हुई है। पुलिस के अनुसार जरीपटका के अलावा मानकापुर, सदर, मंगलवारी, गुरुनानकपुरा के अलावा खामला, वर्धमाननगर, देशपांडे ले आऊट में महिलाओं के अधिकांश जुआ अड्‌डे हैं। इन अड्‌डों की खासियत है कि महीने पखवाड़े में अड्‌डे बदल दिए जाते हैं। किटी पार्टी के नाम पर बकायदा वाट्सएप ग्रुप तैयार किया जाता है। पहले ही सूचना दे दी जाती है कि इस बार खेलने के लिए कौन - कौन आने वाले हैं।

हर बार बदल जाते हैं अड्‌डे
खेल की शुरुआत रमी से होती है। बाद में सीधे 3 पत्ती का गेम शुरु हो जाता है। पुरुषों के जुआ अड्‌डों की तरह महिलाओं के इन अड्‌डों पर भी मनोरंजन के अलावा मौजमस्ती की सारी सुविधाएं उपलब्ध रहती है। महंगी शराब के अलावा इम्पोरर्टेड सिगरेट का दौर चलते रहता है। जुआ में हार जाने पर कर्ज की सुविधा भी उपलब्ध रहती है। कर्ज की वसूली के लिए ज्वेलरी से लेकर कार तक गिरवी रख ली जाती है। यह कर्ज 10 प्रतिशत से अधिक ब्याज का रहता है। पिछले कुछ दिनाें से नागपुर में रायपुर, जबलपुर व अमरावती से भी महिलाएं जुआ खेलने आने लगी है। लिहाजा शहर में ऐसे रेस्टारेंट खुल आए हैं जहां सामने तो केवल वेज नानवेज की थालियां सजी रहती है। लेकिन लान व स्पेशल काटेज के नाम पर 5 से 10 सीटर बैठक व्यवस्था रहती है। देर रात तक चलते इन जुआ अड्‌डों को अक्सर नजर अंदाज कर दिया जाता है। 

कमेंट करें
4h5ek