comScore

संसद में उठा संतरे की फसल बर्बादी का मसला, तुमाने की मांग- किसानों को मिले 50 हजार प्रति हेक्टेयर मुआवजा

संसद में उठा संतरे की फसल बर्बादी का मसला, तुमाने की मांग- किसानों को मिले 50 हजार प्रति हेक्टेयर मुआवजा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। शिवसेना सांसद कृपाल तुमाने ने समय पर मानूसन नहीं आने के कारण संतरा किसानों को हुए नुकसान का मसला लोकसभा में उठाया और मांग की है कि बर्बाद हुई फसल का सर्वे कराकर सरकार इन किसानों को 50 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा दे। तुमाने ने यह मसला लोकसभा में शून्यकाल के दौरान उठाया। उन्होने कहा कि नागपुर जिले में बड़ी मात्रा में संतरे का उत्पादन होता है। खासकर कैलिफोर्निया संतरा विश्व प्रसिद्ध है। विदेशों में संतरे की बड़ी मांग होने के चलते नागपुर जिले से संतरा विदेशों में भेजा जाता है। नागपुर जिले के काटोल, नरखेड़ तहसील में संतरे की फसल बड़ी मात्रा में होती है और यहां के किसान सिर्फ संतरे पर ही निर्भर हैं। सांसद ने बताया कि इस वर्ष मानसून समय पर नहीं आने के कारण संतरे की फसल बर्बाद हो गई है और किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। कृपाल तुमाने ने मांग की है कि सरकार यथाशीघ्र बर्बाद हुई फसलों का सर्वे कराए और किसानों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए 50 हजार रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा दिलाने की व्यवस्था करे।

कमेंट करें
ckspF