comScore
Dainik Bhaskar Hindi

धनुष तोप से दगाबाजी, लगा दिए मेड इन चायना पुर्जे, CBI कर रही जांच

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 11th, 2019 20:19 IST

1.8k
0
0
धनुष तोप से दगाबाजी, लगा दिए मेड इन चायना पुर्जे, CBI कर रही जांच

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। धनुष तोप में चाइना के बैरिंग लगा देने का मामला एकदम से गरमा गया है। सूत्रों के अनुसार मामले की उच्चस्तरीय जांच की जा रही है। दिल्ली से आई एक टीम ने आज जीसीएफ में दबिश देते हुए खरीदी से जुड़े कई अहम दस्तावेज और उपकरणों को जब्द किया है। स्वदेशी बोफोर्स मानी जाने वाली धनुष तोप में जर्मनी के कलपुर्जे लगाए जाने थे, किंतु अधिकारियों की मिलीभगत से चीनी कलपुर्जे लगा दिये। मामले की जांच सीबीआई पिछले सात माह से चल रही है। आज 11 एक बार फिर सीबीआई की टीम ने गन कैरिज फैक्ट्री जबलपुर में दबिश दी है, जिससे हड़कम्प की स्थिति बनी हुई है।

सीबीआई की टीम जबलपुर पहुंची है, इस टीम ने जीसीएफ में दबिश देते हुए खरीदी से जुड़े कई अहम दस्तावेज और उपकरणों को अपने कब्जे में लिया है। सीबीआई ने जूनियर वर्क्स मैनेजर एससी खपुआ के दफ्तर और आवास भी पहुंची और उनके कम्प्यूटर को जब्त किया, साथ ही उनके बयान भी दर्ज किए। धनुष में चीनी कलपुर्जो का मामला सामने आने के बाद सीबीआई ने दिल्ली की सिद्ध सेल्स सिंडीकेट कंपनी समेत अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी पहले ही कर ली थी। जबलपुर की जीसीएफ फैक्टरी में ये दूसरा मौका होगा, जब सीबीआई की टीम पहुंची है।

क्या है मामला
2017 में सीबीआई ने इस मामले में दिल्ली की सिद्ध सेल्स सिंडिकेट के खिलाफ एफआई आर की गई थी साथ ही जांच एजेंसी ने जबलपुर की गन कैरिज फैक्टरी के अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी थी। मामला उजागर होने के बाद कई दिनों तक अधिकारियों से पूछताछ की, वही धनुष सेक्शन से फाइल को जब्त कर लिया है।

चीनी बेयरिंग लगाई, बताया जर्मनी की
बताया जाता है कि धनुष तोप के लिए कंपनी ने मेड इन जर्मनी बताकर चीन में बनी वायर रेस रोलर बेयरिंग सप्लाई की थी। कंपनी ने फैक्टरी के अधिकारियों के साथ मिलकर नकली कजपुर्जों के लिए जालसाजी की।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download