comScore

कांग्रेस और NCP में सीटों के बंटवारे पर नहीं बन रही बात

November 09th, 2018 17:11 IST
कांग्रेस और NCP में सीटों के बंटवारे पर नहीं बन रही बात

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भाजपा को किसी भी कीमत पर हराने में जुटी कांग्रेस महाराष्ट्र में NCP को आधी हिस्सेदारी देने को फिलहाल तैयार नहीं है। जबकि NCP 50-50 के फार्मूले केे बगैर मानने को तैयार नहीं है। पार्टी चाहती है कि लोकसभा चुनाव में दोनों दल बराबर-बराबर यानि 24-24 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करें। पर कांग्रेस NCP के दबाव में झुकने की बजाय अगले सप्ताह से सभी 48 सीटों के लिए इच्छुक उम्मीदवारों का साक्षात्कार शुरू करेगी, लेकिन महाराष्ट्र के कांग्रेसी फिलहाल इसके लिए राजी नहीं हो रहे हैं।

वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने 26 और NCP ने 22 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे। इस चुनाव में NCP ने कम सीटों पर लड़ कर कांग्रेस से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल की थी। NCP को 4 और कांग्रेस को केवल दो सीटों पर सफलता मिली थी। बाद में विधानसभा चुनाव के वक्त गठबंधन टूट गया था और दोनों दलों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था। विधानसभा चुनाव में  कांग्रेस NCP के मुकाबले एक सीट ज्यादा जीत पाई थी।

चर्चा की शुरुआत में ही NCP ने साफ कर दिया रुख
इस बार जब 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस-NCP के बीच गठबंधन के बाबत चर्चा शुरू हुई तो NCP ने पहले ही साफ कर दिया कि आधी हिस्सेदारी से कम पर बात नहीं बनेगी। पर इसको लेकर कांग्रेस के स्थानीय नेता तैयार नहीं हैं। सूत्रों के अनुसार NCP अध्यक्ष शरद पवार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सामने 50-50 फार्मूला रख चुके हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता माणिकराव ठाकरे ने दैनिक भास्कर से कहा कि फिलहाल सीट बंटवारा फाइनल नहीं हुआ है। कांग्रेस-NCP के बीच 50-50 फार्मूले पर सहमति की बाते अफवाह हैं। उन्होंने कहा कि दोनों दलों के नेताओं के बीच बातचीत चल रही है, जल्द ही सब फाइनल हो जाएगा।

15,16 व 17 को प्रत्याशी चयन पर बैठक
इस बीच कांग्रेस ने आगामी 15, 16 व 17 नवंबर को उम्मीदवारों के चयन को लेकर बैठक बुलाई है। पार्टी प्रभारी मल्लिकार्जुन खडगे राज्य की सभी 48 सीटों के लिए इच्छुक उम्मीदवारों का साक्षात्कार करेंगे। उम्मीदवारों के चयन के लिए गठित कांग्रेस का पैनल लोकसभावार पार्टी की स्थिति की भी समीक्षा करेगा। प्रदेश कांग्रेस के महासचिव गणेश पाटील ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में होने वाली बैठक में राज्य की सभी लोकसभा क्षेत्रों की समीक्षा की जाएगी।  

एक कयास ये भी
समझा जा रहा है कि NCP के कड़े रुख को देखते हुए पार्टी NCP को आधी सीटे देने को राजी हो जाएगी। लेकिन महाराष्ट्र के कांग्रेस नेता इसके लिए 50-50 फार्मूले पर तैयार नहीं हो रहे, क्योंकि कांग्रेस को अपने अन्य साथी छोटे दलों को भी गठबंधन में शामिल करना है। स्वाभिमानी शेतकरी संगठन के राजू शेट्टी और समाजवादी पार्टी को गठबंधन में शामिल होने के लिए कम से कम एक से दो सीटें चाहिए।

कमेंट करें
j10L2