comScore
Dainik Bhaskar Hindi

बारिश की वजह से खतरा, महाराष्ट्र नगर-निगम ने गिराए जर्जर मकान

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 15:49 IST

1.2k
0
0
बारिश की वजह से खतरा, महाराष्ट्र नगर-निगम ने गिराए जर्जर मकान

दैनिक भास्कर न्यूज़ डेस्क, नागपुर. शहर के पुराने जर्जर मकानों को बारिश की वजह से खतरा हो सकता है। लिहाजा, महाराष्ट्र नगर निगम प्रशासन ने जर्जर मकानों को गिराने का फैसला किया हैं। निगम प्रशासन के के अतिक्रमण विरोधी दस्ते ने गुरुवार को गंगाबाई घाट समीप भूतेश्वर नगर और छावनी परिसर में जर्जर मकानों पर बुलडोजर चलाकर कार्रवाई की।

कार्रवाई में भूतेश्वर नगर में दो मंजिला जर्जर इमारत और छावनी मस्जिद के समीप 80 वर्ष पुराना मकान गिराया गया। वही दूसरी ओर महल स्थित दक्षिण मूर्ति चौक में एक महिला को कार्रवाई से राहत दी गई। हालांकि जिस मकान में महिला रहती है, वह मकान भी जर्जर है।

50 साल पहले उस महिला के रिश्तेदार मकान को ताला लगाकर कहीं चले गए। मकान का ऊपर वाला माला जर्जर हो चुका है। वह निचले हिस्से में रहती है। मकान के जर्जर होने के कारण महाराष्ट्र नगर निगम प्रशासन की और से उसे एक साल पहले नोटिस दिया गया था। अतिक्रमण दल जब कार्रवाई करने पहुंचा, तब महिला ने बताया कि ऊपरवाला माला उसके अधिकार में नहीं आता।

महिला से पूछताछ करने के बाद नगर निगम अधिकारियों ने उसे पुलिस थाने में शिकायत कराने को कहा और उसके घर पर बुलडोजर चलाने की कार्यवाई नहीं की गई और उसे मकान के जर्जर होने के कारण किसी भी अप्रिय घटना होने की चेतावनी दी। कार्यवाई के दौरान नगर निगम सहायक आयुक्त अशोक पाटिल सहित विभाग के कई अन्य लोग मौजूद थे।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download