comScore
Dainik Bhaskar Hindi

आनंद महिंद्रा क्यों हुए इस बच्चे के मुरीद, करना चाहते हैं हायर

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 12th, 2018 19:45 IST

4.9k
0
0
आनंद महिंद्रा क्यों हुए इस बच्चे के मुरीद, करना चाहते हैं हायर

News Highlights

  • आनंद महिंद्रा इन दिनों ट्वीटर पर काफी सक्रीय नजर आ रहे हैं।
  • अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक छोटे से बच्चे की वीडियो पोस्ट की।
  • उनके इस पोस्ट को काफी पसंद किया जा रहा है।


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली।  महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा इन दिनों ट्वीटर पर काफी सक्रीय नजर आ रहे हैं। उन्होंने शनिवार को अपने ट्वीटर एकाउंट पर एक छोटे से बच्चे की वीडियो पोस्ट की। इस पोस्ट में आनंद ने लिखा कि वह इस बच्चे को महिंद्रा कंपनी जॉइन करने का कॉन्ट्रैक्ट देना चाहते हैं। उनके इस पोस्ट को काफी पसंद किया जा रहा है।

क्या है वीडियो में
इस वीडियो में एक बच्चा बेड पर बैठा हुआ दिख रहा है। उस बच्चे को नीचे उतरना है पर बेड की ऊंचाई ज्यादा होने के कारण वह बार-बार उतरने में नाकाम हो रहा है। इसके बाद वह बच्चा एक तरकीब लगाता है। वह बेड पर मौजूद तकिए को बेड से नीचे फेंक देता है। इससे उस बच्चे को बेड से उतरने में मदद मिलती है। बच्चे की इसी इंटेलिजेंस से आनंद महिंद्रा कायल हो गए और उन्होंने यह पोस्ट किया।



क्या लिखा आनंद महिंद्रा ने
आनंद ने लिखा, 'ओके, इस बच्चे की कॉलेज लाइफ खत्म होते ही मैं इसे अपनी कंपनी में हायर करना चाहता हूं। कॉलेज खत्म होते ही मैं इसे एक फॉरवर्ड कॉन्ट्रैक्ट देना चाहता हूं। यह बच्चा हमारे सभी प्रॉजेक्ट्स की 'सॉफ्ट लैंडिंग' सुनिश्चित करेगा। वॉट ए लिटिल जीनियस...।'


 

आनंद महिंद्रा के इस ट्वीटर पोस्ट पर यूजर्स ने काफी रोचक रिप्लाई भी दिए। श्रीकांत नाम के एक यूजर ने इसके रिप्लाई में एक दूसरा वीडियो पोस्ट किया। इस वीडियो में भी बच्चा कुछ ऐसा ही करता हुआ दिख रहा है। श्रीकांत ने लिखा कि इसे भी हायर करें। वहीं ऐश्वर्या रजावत नाम की एक यूजर ने कहा, 'मैं कसम खाती हूं कि यह मेरे ही बचपन की वीडियो है। सर मैं आपको कब जॉइन कर सकती हूं।' ऐश्वर्या का जवाब देते हुए आनंद ने लिखा कि यह एक अच्छा प्रयास था। आप भी लगभग उसी बच्चे की तरह ही चालाक हैं।

आनंद महिंद्रा इन दिनों सोशल वर्क्स और चैरिटी में भी काफी एक्टिव दिख रहे हैं। उन्होंने हाल ही में हरियाणा के जींद में एक जूते-चप्पल वाले की मदद की थी। आनंद ने जींद के पटियाला चौक पर नरसी राम नाम के मोची को एक नया 'जख्मी जूतों का अस्पताल' गिफ्ट किया था। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें