comScore
Dainik Bhaskar Hindi

J&K एनकाउंटर: AMU का पूर्व छात्र था मन्नान, महबूबा ने कहा- हम हर दिन खो रहे हैं शिक्षित नौजवान

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 12th, 2018 08:13 IST

8.5k
1
1
J&K एनकाउंटर: AMU का पूर्व छात्र था मन्नान, महबूबा ने कहा- हम हर दिन खो रहे हैं शिक्षित नौजवान

News Highlights

  • जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियो को ढेर किया।
  • एक की पहचान मन्नान वानी के रूप में हुई है, जो AMU का पूर्व छात्र रहा है।
  • महबूबा मुफ्ती ने आतंकी वानी की मौत पर दुख जाहिर किया।


डिजिटल डेस्क, श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के  कुपवाड़ा जिले में गुरुवार को सर्चिंग ऑपरेशन के दौरान मारे गए दो आतंकवादियों में से एक की पहचान मन्नान वानी के रूप में हुई है। मन्नान हाल ही में हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़ा था। यह वही मन्नान है जो इसी साल अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) से लापता हुआ था। बाद में यह खुलासा हुआ था कि मन्नान आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हो गया है। बड़ी बात यह है कि मन्नान AMU में PhD स्कॉलर था। अपनी PhD बीच में छोड़कर मन्नान ने जनवरी 2018 में आतंकी संगठन ज्वॉइन कर लिया था। इसके बाद AMU ने भी मन्नान को निष्कासित कर दिया था।

मन्नान की मौत पर जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम और PDP नेता महबूबा मुफ्ती ने शोक जताया है। उन्होंने इस मौत को एक बड़ी क्षति करार दिया है। महबूबा ने मन्नान के एनकाउंटर पर ट्वीट कर अफसोस जाहिर करते हुए लिखा, 'आज एक PhD स्कॉलर ने जिंदगी की बजाय मौत को चुना। वह एनकाउंटर में मारा गया। उसकी मौत हम सब के लिए एक बड़ा नुकसान है। हम हर दिन एक शिक्षित नौजवान खो रहे हैं।' महबूबा ने यह भी लिखा कि यह समय है कि देश की सभी राजनीतिक पार्टियां इस स्थिति को समझे और इस खूनखराबे को खत्म करने के लिए पाकिस्तान से बातचीत शुरू करे।

बता दें कि आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया सूचना के बाद सेना के जवानों, जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (SOG) और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) ने रात करीब तीन बजे कुपवाड़ा जिले के शतगुड हंदवाडा गांव में सर्च ऑपरेशन शुरू किया। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, इलाके की घेराबंदी करने के बाद जब सघन जांच शुरू की गई, तो आतंकियों ने अपनी ओर सुरक्षा बलों को बढ़ते देख फायरिंग शुरू कर दी, जवाब में सुरक्षा बलों ने भी गोलियां बरसाईं। इस कार्रवाई के दौरान सुबह होत-होते सुरक्षाबलों ने वहां छिपे दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया।

सूत्रों के अनुसार सुरक्षाबलों की कार्रवाई के दौरान स्थानीय लोगों ने आतंकियों की मदद के पूरे प्रयास किए। लोगों ने घटनास्थल पर जमा होकर विरोध प्रदर्शन किया, लोगों को हटाने के लिए सुरक्षाबलों को आंसूगैस के गोले भी छोड़ने पड़े और लाठीचार्ज भी करना पड़ा।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर