comScore

साइकिल के फायदे कई, नागपुर में नहीं है साइकिल ट्रैक

November 26th, 2018 15:54 IST
साइकिल के फायदे कई, नागपुर में नहीं है साइकिल ट्रैक

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  साइकिल चलाना सेहत के लिए अच्छा होने के साथ ही इससे प्रदूषण भी नहीं होता। साइकिल चलाने के कई फायदे होने के बावजूद नागपुर शहर में साइकिल ट्रैक उपलब्ध नहीं है। साइकिल ट्रैक बना तो शहर में प्रदूषण में कमी आने के अलावा सड़क दुर्घटनाआें में भी कमी आ सकती है। हालांकि मेट्रो रेल ने अपने रूट पर साइकिल ट्रैक बनाने का निर्णय लिया है। साइकिल चलाने से पूरे शरीर की एक्सरसाइज होती है। शहर में साइकिल चलाने वालों की कमी नहीं है, लेकिन यहां साइकिल ट्रैक ही नहीं है। शहर में जिन रास्तों से वाहन दौड़ते हैं, वहीं से साइकिलें दौड़ाना पड़ती हैं। कई बार वाहन की चपेट में आकर साइकिल चालक जख्मी हो जाता है।

दुर्घटना के चलते लोग सड़क पर साइकिल दौड़ाने से कतराते हैं। उधर वाहनों के आवागमन से प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। ट्रैक रहा तो साइकिल का इस्तेमाल ज्यादा होगा। इससे प्रदूषण में, दुर्घटनाआें में कमी आने के अलावा स्वास्थ्य लाभ भी होगा। विभागीय क्रीड़ा संकुल में आईआरसी की तरफ से आयोजित प्रदर्शनी में नागपुर की एक कंपनी द्वारा साइकिल ट्रैक को बढ़ावा देने के लिए स्टॉल लगाया गया है। यहां डेमो के तौर पर एक साइकिल रखी गई है, जो बैटरी से चार्ज होती है। कंपनी के अभिषेक दुबे द्वारा साइकिल चलाने के फायदे बताए जा रहे हैं। उनका कहना है कि सूरत, भोपाल, पुणे व जबलपुर में साइकिल ट्रैक बन चुका है। नागपुर में साइकिल ट्रैक बना तो भारी प्रतिसाद मिलेगा। इससे प्रदूषण कम होने के साथ ही साइकिल चालक की सेहत भी अच्छी होगी। साइकिल चलाने से मोटापा भी कम होता है। साइकिल ट्रैक शहर की जरूरत है। मेट्रो रेल अपने रूट पर ट्रैक बनाएगा। मेट्रो की तरफ से साइकिल किराए पर दी जाएगी। 

शहर के लिए जरूरी है साइकिल ट्रैक 
आईआरसी के नवनियुक्त अध्यक्ष तोली बसार ने कहा कि, नागपुर के लिए साइकिल ट्रैक जरूरी है। इसके लिए मनपा को आगे आना चाहिए। आईआरसी इस संबंध में पहले ही गाइडलाइन जारी कर चुका है। इस पर अमल होना चाहिए।

कमेंट करें
T8Hai