comScore

Maruti Suzuki गुरुग्राम में लगाएगी 5 मेगावाट का सौर ऊर्जा संयंत्र

Maruti Suzuki गुरुग्राम में लगाएगी 5 मेगावाट का सौर ऊर्जा संयंत्र

हाईलाइट

  • गुरुग्राम संयंत्र में कंपनी 24 करोड़ रुपए का निवेश करेगी
  • ऊर्जा संयंत्र का परिचालन चालू वित्त वर्ष में शुरू हो सकता है
  • ऊर्जा संयंत्र से उत्पन्न बिजली का उपयोग कंपनी जरूरतों में करेगी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सौर ऊर्जा प्लांट में बनने वाली बिजली का इस्तेमाल कर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में अपना योगदान देने के लिए मारुति सुजुकी लिमिटेड एक और सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने जा रही है। यात्री कार निर्माता घरेलू कंपनी मारुति सुजुकी गुरुग्राम में इस संयंत्र को लगाएगी। पांच मेगावाट क्षमता के इस सौर ऊर्जा संयंत्र को लगाने के लिए कंपनी 24 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। 

नए सौर ऊर्जा संयंत्र की जानकारी बुधवार को मारुति सुजुकी इंडिया ने दी है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसने हाल ही में इस संयंत्र की नींव रखी है। उम्मीद जताई जा रही है कि मारुति सुजुकी के नए सौर ऊर्जा संयंत्र का परिचालन चालू वित्त वर्ष में शुरू कर दिया जाएगा। 

इस सौर ऊर्जा संयंत्र से उत्पादित होने वाली बिजली का इस्तेमाल कंपनी अपनी जरूरतों में करेगी। कंपनी के अनुसार प्रस्तावित संयंत्र से अगले 25 साल तक सालाना 5,390 टन से अधिक कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन कम करने में मदद मिलेगी।

मारुति सुजुकी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी केनिची आयुकावा ने कहा है कि, ‘‘यह सौर ऊर्जा मुहिम पर्यावरण के अनुकूल प्रौद्योगिकी अपनाने तथा कार्बन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन कम करने की कंपनी के रणनीति के अनुकूल है।’’ उन्होंने कहा कि इस सौर ऊर्जा संयंत्र के जरिए कंपनी अगले 25 साल तक अपनी कारोबारी जरूरतों के लिए नवीकरणीय ऊर्जा का उत्पादन करने में सक्षम होगी।

आपको बता दें कि यह मारुति सुजुकी का ग्रिड पर आधारित दूसरा सौर ऊर्जा संयंत्र होगा। कंपनी ने पहला सौर ऊर्जा संयंत्र वर्ष 2014 में हरियाणा के मानेसर स्थित अपने प्लांट में लगाया था। इस प्लांट में बनने वाली बिजली को प्राकृतिक गैस आधारित प्लांट के साथ सिंक्रोनाइज किया गया, जिससे मानेसर प्लांट की बिजली की जरूरत पूरी होती है। इसकी क्षमता शुरुआत में एक मेगावाट थी जिसे बाद में 2018 में बढ़ाकर 1.3 मेगावाट कर दिया गया।

Loading...
कमेंट करें
ZJ1tA
Loading...
loading...