comScore

आर्थिक आकंड़ों और मॉनसून से तय होगी बाजार की दिशा

July 27th, 2017 15:43 IST
आर्थिक आकंड़ों और मॉनसून से तय होगी बाजार की दिशा

टीम डिजिटल, मुंबई. घरेलू शेयर बाजारों की नजर अगले सप्ताह मानसून की चाल और आने वाले विभिन्न आर्थिक आंकड़ों पर रहेगी. बाजार में इस हफ्ते भारी उतार-चढ़ाव जारी रहने की उम्मीद है. बाजार की चाल घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई), मानसून का रुख, वैश्विक बाजारों का रुझान और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) का रुख, डॉलर के मुकाबले रुपए की चाल और कच्चे तेल की कीमतें मिलकर तय करेंगे.

पेट्रोलियम कंपनियों पर नजर : खेल आर्थिक रुझान देखें तो सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों पर भी नजर रहेगी, क्योंकि वे महीने के बीच में तेल कीमतों की समीक्षा करेंगी. हालांकि 15 जून के बाद से तेल कंपनियां हर पखवाड़े की जगह रोजाना तेल की समीक्षा करेगी. इससे रोजाना पेट्रोल-डीजल कीमतें बदलने के आसार हैं. अभी तेल कंपनियां महीने के बीच और अंत में हर पखवाड़े कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमतों के आधार पर तेल कीमतों की समीक्षा करती हैं.

विमानन कंपनियों के शेयरों में बदलाव : जेट ईंधन की कीमतों की मासिक समीक्षा भी इस सप्ताह होने जा रही है. इससे विमानन कंपनियों के शेयरों पर नजर होगी. जेट ईंधन की कीमतें सीधे तौर पर अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों से जुड़ी हैं. विमानों के परिचालन लागत में अकेले ईंधन का खर्च 50 फीसदी से अधिक होता है.

पांच माह में 20 फीसदी चढ़ा बाजार : बीते पांच माह के शेयर बाजार के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह अब तक 20 फीसदी से ज्यादा चढ़ चुका है. इस सिलसिले के लगातार ऐसे चलते रहने की संभावना जताई जा रही है. आर्थिक पंडितों की माने तो बाजार पर जीएसटी का व्यापक सकारात्मक असर होने की उम्मीद है. इससे स्मॉल स्केल इंडस्ट्रीज के शेयरों में भी खासा सुधार दिखने की उम्मीद है. चीनी शेयर मार्केट में 2.4 फीसदी ग्रोथ ही दिखी है. अमूमन दूसरे विदेशी बाजारों के भी यही हाल हैं. ऐसे में विदेशी संकेतों का भी असर घरेलू बाजारों में होगा.    

मानसून प्रमुख फैक्टर :  निवेशकों की नजर दक्षिण-पश्चिमी मानसूनी बारिश की प्रगति पर होगी. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने 8 जून की साप्ताहिक मौसम रिपोर्ट में कहा है कि पश्चिमी तट और पूर्वोत्तर राज्यों के अधिकतर स्थानों, महाराष्ट्र के बचे हिस्सों और पूर्व भारत के कुछ स्थानों पर 8 जून से 14 जून तक बारिश संभव है. आईएमडी के अनुसार केंद्रीय भारत और प्रायद्वीपीय भारत एवं पश्चिमी हिमालय क्षेत्रों में अलग-अलग जगहों पर बारिश की बहुत संभावना है.

ये आर्थिक आंकड़े आएंगे : माइक्रो इकोनॉमिक डेटा में सरकार सोमवार को अप्रैल के औद्योगिक उत्पादन आंकड़े घोषित करेगी. साथ ही उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) या खुदरा महंगाई का आंकड़ा भी घोषित होगा. बुधवार को थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित मई के महंगाई संबंधी आंकड़े जारी होंगे.

वैश्विक मोर्चे पर क्या : अमेरिकी फेडरल रिजर्व बुधवार को अपनी मौद्रिक नीति का खुलासा करेगी. चीन के मई माह के औद्योगिक उत्पादन के आंकड़े भी बुधवार को ही आएंगे. उसी दिन जापान और यूरोप के भी अप्रैल का औद्योगिक उत्पादन आंकड़ा जारी करेंगे. बैंक ऑफ जापान अपनी मौद्रिक नीति का खुलासा इसी सप्ताह शुक्रवार को करेगी.

कमेंट करें
NCtK7