comScore

दिल्ली पुलिस की बड़ी कामयाबी, IM का मोस्ट वांटेड आतंकी गिरफ्तार

September 06th, 2018 15:58 IST

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस को सोमवार को एक बहुत बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने इंडियन मुजाहिद्दीन के मोस्ट वांटेड आतंकी को गिरफ्तार किया है। इस आतंकी का नाम अब्दुल सुभान कुरैशी बताया जा रहा है। इसके साथ ही ये भी कहा जा रहा है कि ये आतंकी 26 जनवरी से पहले दिल्ली को दहलाने की साजिश रच रहा था। अब्दुल सुभान कुरैशी की गिनती इंडियन मुजाहिद्दीन के फाउंडर मेंबर्स में होती है और 2008 में हुए गुजरात ब्लास्ट में भी इसका हाथ बताया जाता है।


पुलिस पर फायरिंग भी की, लेकिन गिरफ्तार 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब्दुल सुभान कुरैशी दिल्ली में एक बड़ी आतंकी साजिश रचने की प्लानिंग कर रहा था। इस बात की जानकारी दिल्ली पुलिस को लगी, तो स्पेशल सेल इसे गिरफ्तार करने पहुंची। बताया जा रहा है कि अब्दुल सुभान कुरैशी ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल पर फायरिंग भी की, लेकिन आखिरी में आतंकी कुरैशी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। बता दें कि काफी लंबे समय से सिक्योरिटी एजेंसियों को इस आतंकी की तलाश थी।

भारत का लादेन कहा जाता था

अब्दुल सुभान कुरैसी को तौकीर के नाम से भी जाना जाता है। पेशे से इंजीनियर इस आतंकी को भारत का ओसामा बिन लादेन भी कहा जाता है। आतंकी कुरैशी को बम बनाने में माहिर माना जाता है। सिक्योरिटी एजेंसियों को 11 जुलाई 2006 में मुंबई में हुए ट्रेन ब्लास्ट के बाद से अब्दुल सुभान कुरैशी की तलाश थी। इसके अलावा इस आतंकी का दिल्ली, बैंगलुरु और अहमदाबाद में हुए बम ब्लास्ट में भी हाथ माना जाता है। बताया जाता है कि आतंकी कुरैशी इंडियन मुजाहिद्दीन के सारे ऑनलाइन काम किया करता था।

2008 में अहमदाबाद में हुए थे 19 ब्लास्ट

26 जुलाई 2008 में अहमदाबाद में एक के बाद एक लगातार 19 बम ब्लास्ट हुए थे। इन हमलों की जिम्मेदारी इंडियन मुजाहिद्दीन ने ली थी। ये सारे धमाके 90 मिनट के अंदर किए गए थे औक इन बम ब्लास्ट में कम से कम 56 लोग मारे गए थे, जबकि 250 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। इन आतंकवादी साजिश में अब्दुल सुभान कुरैशी का नाम भी सामने आया था।

उत्तरप्रदेश से मुंबई आकर बसा था आतंकी का परिवार

बताया जाता है कि आतंकी अब्दुल सुभान कुरैशी के माता-पिता मूल रूप से उत्तरप्रदेश के रहने वाले थे, लेकिन काफी सालों पहले वो लोग मुंबई आकर बस गए थे। अब्दुल सुभान कुरैशी भी साल 1999 और 2000 के दौरान आतंकी गतिविधियों में शामिल हुआ था। 21 अगस्त 2001 को इस आतंकी को मुंबई में स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) की प्रेस कॉन्फ्रेंस में देखा गया था। कई शहरों में बम ब्लास्ट होने के बाद से ही सिक्योरिटी एजेंसियों को इसकी तलाश थी। 

कमेंट करें
EbYpk