comScore

मां ने बेटों को बरसों से कर रखा था कैद, पुलिस ने छुड़ाया 

March 17th, 2018 18:24 IST

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली में एक मां की बेरहमी का अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां एक मां ने ही अपने दो मासूम बेटों को वर्षों से घर कैद कर रखा था। पड़ोसियों की शिकायत पर पुलिस ने शुक्रवार को दोनों बच्चों को मां की कैद से मुक्त कराया। पुलिस के मुताबिक, आरोपी महिला अपनी मां और दो बेटों के साथ जनकपुरी इलाके में रहती है।

पुलिस ने बताया कि दोनों मासूम बेटों में एक की उम्र 16 साल है और एक की उम्र 12 है। वहीं बताया गया कि आरोपी महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। पुलिस ने आरोपी महिला को कोर्ट के सामने पेश किया, जहां से उसे इलाज के लिए इहबास हॉस्पिटल भेज दिया गया। अब पुलिस आरोपी महिला के पति और परिवार के अन्य सदस्यों की तलाश में जुट गई है। हैरानी की बात यह है कि आरोपी महिला वंदना मिश्रा और उसका पति दोनों ही पेशे से डॉक्टर हैं। लेकिन कुछ सालों से उसका पति परिवार से अलग है।

कई सालों से कैद है परिवार 


पड़ोसियों ने बताया कि, वंदना खुद भी घर से बाहर नहीं निकलती और न ही अपने बेटों को बाहर निकलने देती थी। इतना ही नहीं वह पड़ोसियों और राहगीरों को गालियां देती और उन पर पत्थर भी फेंकती थी। हालांकि आसपास रहने वाले लोगों ने पहले भी पुलिस से महिला के इस करतूत की शिकायत की थी, लेकिन पुलिस ने मामले को गंभीरता ले नहीं लिया। और न ही कोई कार्रवाई नहीं की गई। आखिरकार पड़ोसियों के दबाव बनाने पर पुलिस ने बेरहम मां के चंगुल से दोनों मासूम बेटों को मुक्त कराया। पुलिस ने बताया कि कई वर्षों से घर में कैद रहने के कारण दोनों मासूम बच्चों की भी दिमागी हालत असामान्य हो गई है। दोनों बच्चों को द्वारका के चिल्ड्रन होम भेज दिया गया है।


 

कमेंट करें
8QyIr