comScore

महाकौशल में अपरांह 12 बजे तक 30 प्रतिशत मतदान, दूल्हा दुल्हन ने भी डाला वोट 

महाकौशल में अपरांह 12 बजे तक 30 प्रतिशत मतदान, दूल्हा दुल्हन ने भी डाला वोट 

डिजिटल डेस्क,जबलपुर। लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में मध्यप्रदेश में छह सीटों महाकौशल की जबलपुर ,मंडला बालाघाट  छिंदवाड़ा तथा विध्य की सीधी व शहडोल क्षेत्र के साथ ही  छिंदवाड़ा विधानसभा उपचुनाव के लिए सुबह सात बजे से वोटिंग शुरू हो गई। लोकतंत्र के इस महापर्व पर बच्चों बूढ़ों सहित दूल्हा दुल्हन सहित दिव्यांगों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।  मध्यप्रदेश की 6 लोकसभा सीटों पर 12 बजे तक 30 प्रतिशत मतदान हुआ। सबसे ज्यादा 31.9 प्रतिशत मतदाताओं ने शहडोल लोकसभा में अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। बालाघाट संसदीय क्षेत्र में 28.8,  मंडला में साढे 27 प्रतिशत, छिंदवाड़ा में 28 प्रतिशत,  सीधी में 23 प्रतिशत और जबलपुर में 22.30 प्रतिशत मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया। चौथे चरण के चुनाव के लिए 13 हजार 491 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। कई केंद्रों पर मतदान शुरू होने से पहले ही मतदाताओं की लाइन लग गई थी। गर्मी से बचने के लिए लोग सुबह से ही मतदान करने पहुंच रहे हैं। बालाघाट जिले के लांजी, परसवाड़ा और बैहर में मतदान शाम चार बजे तक होगा। चुनाव में एक करोड़ पांच लाख से ज्यादा मतदाता मतदान करेंगे। 359 क्यूलेस मतदान केंद्र बनाए गए हैं। यहां मतदाताओं को मतदान के लिए लाइन नहीं लगानी पड़ेगी।

 ये व्यवस्था भी...

  •  जिन वाहनों में ईवीएम और वीवीपैट भेजी गई हैं, उन्हें जीपीएस के माध्यम से मॉनीटर किया जा रहा है।
  • नक्सल प्रभावित मंडला और बालाघाट में सेना के दो हेलिकॉप्टर तैनात किए गए हैं जो रैकी का काम कर रहे हैं।
  • जबलपुर में एयर एम्बुलेंस तैनात।
  • सिगरौली जिले के चितरंगी विधानसभा मे 23प्रतिशत वोट अब तक डाले जा चुके हैं 
  • सिगरौली विधानसभा मे 26प्रतिशत वोट डाले जा चुके हैं 
  • देवसर विधानसभा मे 27प्रतिशत वोट डाले जा चुके हैं 
  • टोटल सिगरौली जिले में अब तक 22.84प्रतिशत वोट पड़ चुके हैं
  • बरगी में सुकीर्ति बर्मन पत्नी स्वर्गीय राम बर्मन बालक शाला स्कूल बरगी परिवार में कोई नहीं है बेटा बाहर नौकरी करता है आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सुनीता यादव ने घर जबलपुर - जिले में पहले दो घण्टे में सुबह 9 बजे तक लगभग 10.6 फीसदी मतदान ।
  • निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदान केंद्र पर उम्मीदवार अथवा राजनैतिक दल का झंडा ,फ़ोटो या चुनाव चिन्ह वाली वोटर स्लिप तथा अन्य कोई भी प्रचार सामग्री का प्रदर्शन नहीं किया जा सकेगा । ऐसा करना मतों की याचना समझा जाएगा और दोषी व्यक्ति कर खिलाफ निर्वाचन नियमों के तहत वैधानिक कार्यवाही की जाएगी ।
कमेंट करें
sLtbh