comScore

डबल मर्डर केस: प्रेमी की मदद से गोद ली बेटी ने की हत्या

डबल मर्डर केस: प्रेमी की मदद से गोद ली बेटी ने की हत्या

डिजिटल डेस्क, नागपुर। वाड़ी में हुए  डबल मर्डर की गुत्थी सुलझ गई है। गोद ली हुई पुत्री ने ही प्रेमी की मदद से माता-पिता को मौत के घाट उतार दिया। घटना को नशीली दवा खिलाकर अंजाम दिया गया है। सोमवार को आरोपी पुत्री और उसके प्रेमी को वाड़ी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों की संख्या बढ़ने की संभावना है। 

पूछताछ में टूट गई
आरोपी प्रियंका चंपाती (25), उसका प्रेमी वड़धामना निवासी विद्यार्थी इखलाक खान और इखलाक का मित्र है। सोमवार को पुलिस ने प्रियंका  और इखलाक को गिरफ्तार किया है। उसके मित्र की तलाश जारी है। बार-बार बयान बदलने से प्रियंका पुलिस के शक के दायरे में आ गई थी। महिला पुलिस अधिकारी की मदद से प्रियंका से सख्ती से पूछताछ की गई, तो वह टूट गई। उसने प्रेमी इखलाक खान (26) और उसके मित्र की मदद से पिता शंकर चंपाती (60) और मां सीमा चंपाती (50) वर्ष की हत्या करने का राजफाश किया है।

प्रियंका को बचपन में ही लिया था गोद
प्रियंका के माता-पिता की सड़क हादसे मौत हो चुकी है, जिससे चंपाती दंपति ने बचपन में ही प्रियंका को गोद लिया था। उसे पढ़ाया-लिखाया। वर्तमान में प्रियंका किसी आईटी कंपनी में नाौकरी करती है। उसके लिए योग्य वर की तलाश की जा रही थी। रिश्तेदारी में कुछ लोगों के पास प्रियंका के रिश्ते की बात भी चंपाती दंपति ने की थी, लेकिन इखलाख से प्रेम संबंध होने के कारण प्रियंका कही अन्यत्र शादी करने के लिए तैयार नहीं थी, जबकि चंपाती दंपति इस अंतरजातीय शादी के विरोध में थे। इस बीच प्रियंका और इखलाक के कोर्ट मैरिज करने की बात भी चंपाती दंपति तक पहुंच गई थी, जिससे उन्होंने प्रियंका को अपनी संपत्ति से बेदखल करने की चेतावनी दी थी।

इकलौती वारिस थी
चंपाती दंपति की संपत्ति की प्रियंका इकलौती वारिस थी। सेवानिवृत्त होने के पश्चात उन्होंने नारियल पानी भी बेचा है। दो मकानों करीब 10-12 किराएदार भी हैं। इससे यह संपत्ति वह किसी करीबी रिश्तेदार अथवा संस्था को दान भी कर सकते थे। इस कारण 6 महीने पहले शंकर पर हमला भी कराया गया था। इखलाक के पास भी संपत्ति है। पढ़ाई के साथ-साथ इखलाक पिता के ट्रांसपोर्ट और अन्य कारोबार में भी हाथ बटाता है। फिर भी प्रियंका यह संपत्ति छोड़ना नहीं चाहती थी। इस कारण प्रेमी की मदद से घटना को अंजाम दिया है।

श्वान के पास खुद खड़ी रही प्रियंका
चंपाती दंपति के घर में पालतू श्वान है, जो काफी खुंखार है। अनजान व्यक्ति को घर में घुसने नहीं देता है। इस कारण जब इखलाक और उसका मित्र घटना को अंजाम देने आए, तो प्रियंका खुद श्वान के पास खड़ी रही। इससे श्वान शांत रहा और बड़ी आसानी से इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया गया। 

कमेंट करें
Jt3XI