comScore
Election 2019

प्रेग्नेंट बीवी का गला घोटकर खुद गटका जहर, शक में बिखर गया परिवार

प्रेग्नेंट बीवी का गला घोटकर खुद गटका जहर, शक में बिखर गया परिवार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पत्नी के चार माह की गर्भवती होने की बात पता चलने पर खुश होने के बजाय शक्की पति ने महिला का गला घोंटकर हत्या कर दी। बाद में उसने जहरीली दवा खाकर आत्महत्या का प्रयास किया। घटना मानकापुर थाना क्षेत्र की है। मृतक महिला का नाम दीपाली उर्फ रोशनी राऊत है। मृतका के पिता अशोक होरे की शिकायत पर मानकापुर पुलिस ने दीपाली के पति योगेश राऊत, मानवता नगर झिंगाबाई टाकली निवासी के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज किया है। बताया जाता है कि आरोपी पत्नी के चरित्र पर शक करने लगा था। उसे लग रहा था कि दीपाली की कोख में पल रही संतान उसकी नहीं है। 

करता था मारपीट
पुलिस के अनुसार दीपाली राऊत की गत 11 मई को उसके पति के साथ पुलिस ने मेयो अस्पताल में भर्ती किया गया। प्राथमिक जांच में वह मृत मिली। यह बात दीपाली के मायकेवालों को पता चलने पर वे नागपुर पहुंचे। पहले मानकापुर पुलिस ने इस मामले में आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया था। यवतमाल के रायगांव निवासी अशोक रामराव होरे का आरोप है कि उनकी बेटी दीपाली की हत्या की गई है। उसेेे दामाद योगेश पर शक था कि उसने ही दीपाली की हत्या की है। उनकी बेटी के गर्भवती होने पर योगेश उसके चरित्र पर संदेह करने लगा था। इस बात को लेकर वह दीपाली के साथ मारपीट करता था। दीपाली यह बात अपने माता-पिता को इसलिए नहीं बताती थी कि उन्हें दु:ख होगा।

पोस्टमार्टम में गला घोंटने की बात पता चली
थाने में यह आरोप लगाते हुए अशोक होरे ने योगेश के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात पता चली है कि दीपाली की गला घोंटकर हत्या की गई है। तब मानकापुर पुलिस ने अशाेक होरे की शिकायत पर योगेश राऊत के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। दीपाली के पिता का आरोप है कि योगेश ने उनकी बेटी की हत्या करने के बाद खुद भी जहरीली दवा खाकर आत्महत्या की कोशिश की। कुछ समय पहले ही  दीपाली की शादी योगेश के साथ हुई थी।  मानकापुर पुलिस जांच कर रही है। 

एसटी में कंडक्टर थी दीपाली 
दीपाली उच्च शिक्षित थी। वह एसटी विभाग में बस कंडक्टर थी और पांढरकवड़ा बस डिपो में कार्यरत थी। उसका पति योगेश एमआर था। दोनों रविवार को छुट्टी के दिन एक बार साथ में रहते थे। दीपाली के गर्भवती होने की बात पता चलते ही योगेश ने उस बच्चे को पैदा नहीं करने की जिद पकड़ ली। वह चार माह की गर्भवती थी। योगेश और दीपाली झिंगाबाई टाकली परिसर में किराए के कमरे में रहते थे। उसे शक था कि दीपाली का किसी से प्रेम संबंध है। इस पर विवाद हुआ, तो उसने गला घोंट दिया। वह शाम तक शव के पास बैठा रहा। जब उसे डर सताने लगा कि पुलिस पकड़ लेगी, तब उसने जहरीली दवा खा ली। मकान मालिक के ध्यान में आने पर उन्होंने पुलिस को सूचना दी। दोनों को पुलिस ने मेयो अस्पताल पहुंचाया। दीपाली को प्राथमिक जांच के बाद मृत घोषित कर दिया गया। योगेश का उपचार जारी  है।

Loading...
कमेंट करें
lgUYX
Loading...