comScore
Dainik Bhaskar Hindi

नागपुर: नौकरी का लालच देकर महिला को ओमान में बेचा, करा रहे शौचालय की सफाई

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 08th, 2018 13:15 IST

738
1
0
नागपुर: नौकरी का लालच देकर महिला को ओमान में बेचा, करा रहे शौचालय की सफाई

News Highlights

  • सक्करदरा पुलिस इस गिरोह के एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफल हुई है
  • छोटे बच्चे की देखरेख करने की नौकरी का झांसा देकर डेढ़ लाख रुपए में बेचा
  • बहन ने सक्करदरा थाने में आरोपियों के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत


डिजिटल डेस्क, नागपुर। विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर एक महिला को डेढ़ लाख में बेचे जाने का मामला सामने आया है। सक्करदरा पुलिस इस गिरोह के एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफल हुई है। गिरोह ने नागपुर की एक विवाहित महिला को ओमान में छोटे बच्चे की देखरेख करने की नौकरी का झांसा देकर डेढ़ लाख रुपए में बेच दिया था। पीड़ित महिला से बच्चे की देखरेख के अलावा घर के सारे कामकाज कराए जा रहे हैं। नहीं करने पर उसे प्रताड़ित किया जाता है। महिला ने ये बात अपनी बहन को बताई, जिसके बाद बहन ने सक्करदरा थाने में अपनी बहन को बेचने की  शिकायत दर्ज कराई। इस मामले में पुलिस ने आरोपी नसीरूद्दीन उर्फ राजा समसुद्दीन शेख (35), भूपेश नगर, शारदा चौक निवासी को गिरफ्तार किया है।

अदालत में पेश करने के बाद अदालत ने उसे 9 नवंबर तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है। नागपुर से हो रही इस कबूतरबाजी में आरोपी राजा के साथ अन्य आरोपियों में नसीमा, अकीला, फिरोज और इम्तियाज आदि शामिल हैं। इन आरोपियों ने महिला को ओमान तक कैसे पहुंचाया। इस बारे में पुलिस राजा से पूछताछ कर रही है। सक्करदरा के थानेदार संदीपान पवार ने बताया कि, इस पीड़ित महिला को भारत वापस लाने के लिए ओमान के भारतीय दूतावास के अधिकारियों की मदद ली जाएगी। पीड़ित महिला के परिवार में पति और बेटियां हैं। महिला का पूरा परिवार चिंतित है। 

ऐसे फंसी महिला
पुलिस सूत्रों के अनुसार सक्करदरा क्षेत्र में रहने वाली 32 वर्षीय महिला की मुलाकात अकीला से हुई। अकीला ने पहले उससे दोस्ती की। उसके बाद उसके परिवार के बारे में जानकारी हासिल की, फिर अकीला ने महिला को विदेश में नौकरी करने का लालच दिया। अकीला ने उसे बताया कि, उसके कुछ परिचित लोग हैं, जो खाड़ी देशों में नौकरी दिलाने का काम करते हैं। खाड़ी देशों मेें सालाना करीब दो से ढाई लाख रुपए की कमाई होती है। झांसे में आने के बाद अकीला ने महिला को अपने साथी राजा, नसीमा, फिरोज और इम्तियाज से मिलवाया। उन्होंने पीड़ित महिला को खाड़ी देश में उसे एक रईस के यहां बच्चे संभालने की नौकरी की जानकारी दी तथा बदले में 15 से 20 हजार रुपए महीना और रहने व खाने की सुविधा मिलने के बारे में बताया।

महिला आरोपियों के बहकावे में आकर ओमान जाने के लिए तैयार हो गई। आरोपी उसे जुलाई 2018 को ओमन में ले गए। वहां पर महिला को एक शेख को बेच दिया। शेख ने उसे अपने घर में रखने बाद कुछ दिन महिला ने छोटे बच्चे की देखरेख की। उसके बाद शेख घर के दूसरे काम-काज कराने लगा। शौचालय की सफाई जैसे अन्य कुछ कामों से परेशान होकर उसने मोमिनपुरा में रहने वाली अपनी बहन नफिया (25) को फोन किया। जब वह भारत आने की जिद करने लगी तब उसे शेख ने बताया कि, उसने उसे डेढ़ लाख में खरीदा है। उसके पैसे वापस दे दे, उसके बाद भारत चली जा। पीड़ित महिला ओमान में कुछ लोगों की मदद से भारतीय दूतावास के अधिकारियों तक पहुंच गई। इधर उसकी बहन ने सक्करदरा थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने आरोपी नसीरूद्दीन उर्फ राजा को गिरफ़्तार कर लिया है। इस प्रकरण की गहन जांच होने पर कबूतरबाजी का बड़ा मामला सामने आ सकता है।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

ई-पेपर