comScore
Election 2019

टुल्लू पंप लगाने वालों की खैर नहीं, मनपा ने शुरू किया जब्त करना

टुल्लू पंप लगाने वालों की खैर नहीं, मनपा ने शुरू किया जब्त करना

डिजिटल डेस्क, नागपुर। जलसंकट के हालात सुधारने के लिए  मनपा ने सख्त होकर कदम उठाने शुरू कर दिए हैं। टुल्लू पंप लगाकर पानी भरने वालों की अब खैर नहीं है। मनपा से गुरुवार से इनके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है।  यह निर्णय मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर द्वारा आयोजित बैठक में  लिया गया। पेंच और कन्हान में सिर्फ 10 जून तक का पानी बचा है, जिसका नियोजन 30 जून तक करना है।

नागरिक भी साथ दें
बैठक में सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने बताया कि विभाग द्वारा जितना पानी छोड़ा जाता है, उतना पानी पहुंचता नहीं है, इससे समस्या होती है। इस पर मनपा आयुक्त बांगर ने मामले का कारण पता करने के निर्देश देते हुए कहा कि  शहर में कई जगह पानी की बर्बादी हो रही है। नागरिकों को खुद से आगे आकर उसे रोकना होगा। वाहनों की धुलाई के अलावा अस्पतालों में अधिक पानी लगता है, उसे बचाने का प्रयास करें। विधायकों ने विषय उठाया कि अवैध नल कनेक्शन परेशानी खड़ी कर रहे हैं। इस पर आयुक्त ने अधिकारियों को जांच कर अवैध नल कनेक्शन पर कार्रवाई के निर्देश दिए। साथ ही यह भी बताया कि 20 मई से नल कनेक्शन को नियमित किया जाएगा। यदि नागरिकों ने खुद से नहीं किया तो कड़ी कार्रवाई। जरूरत पड़ी तो पुलिस की मदद ली जाएगी।

छोटे टैंकर की व्यवस्था करें
आयुक्त ने कहा कि छोटी बस्तियों में बड़े टैंकर नहीं जा पाते हैं, वहां के लिए छोटे टैंकर की व्यवस्था करें। टैंकर से संबंधित जानकारी समय-समय पर पदाधिकारियों को दी जाए। भले ही हमारे पास 10 जून तक के लिए पानी बचा है, लेकिन प्रशासन उसे बढ़ाने की दिशा में काम कर रही है। चौराई बांध से पानी छोड़ने के लिए मध्यप्रदेश सरकार को बोलने के लिए महाराष्ट्र सरकार से आग्रह किया गया है। सिंचाई विभाग को 20 क्यूसेक्स पानी अतिरिक्त लेने का प्रयास चल रहा है। प्रकल्प में डेड स्टोरेज पानी का उपयोग करने के लिए राज्य सरकार ने मंजूरी दे दी है।

ये थे उपस्थित
बैठक में मनपा आयुक्त के अलावा स्थायी समिति सभापति प्रदीप पोहाणे, विधायक गिरीश व्यास, कृष्णा खोपड़े, विकास कुंभारे, डॉ. मिलिंद माने के साथ जलप्रदाय समिति सभापति पिंटू झलके, अतिरिक्त आयुक्त रवींद्र ठाकरे, राम जोशी, अजीज शेख, सत्तापक्ष के उपनेता बाल्या बोरकर, वर्षा ठाकरे, दिव्या धुरडे, आरोग्य अधिकारी डॉ. सुनील कांबले,  अधिकारियों में कार्यकारी अभियंता श्वेता बनर्जी, सोनाली चोपड़े, प्रणय नागदिवे, के.एम.पी. सिंह आदि उपस्थित थे।
 

Loading...
कमेंट करें
L9TRY
Loading...