comScore
Dainik Bhaskar Hindi

अब बुलेट ट्रेनों का जंक्शन होगा नागपुर, दिल्ली-चेन्नई और मुंबई-कोलकाता जाने वाली ट्रेनें गुजरेंगी

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 12th, 2018 14:26 IST

516
0
0
अब बुलेट ट्रेनों का जंक्शन होगा नागपुर, दिल्ली-चेन्नई और मुंबई-कोलकाता जाने वाली ट्रेनें गुजरेंगी

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  रेलवे देश में 6 मार्गों पर बुलेट ट्रेन चलाने के प्रोजेक्ट पर काम रही है। इसमें से दो मार्गों के  लिए नागपुर को जंक्शन बनाने की योजना है। इससे नागपुर की महत्ता बढ़ जाएगी। यहां से दिल्ली-चेन्नई और मुंबई-कोलकाता जाने वाली ट्रेनें गुजरेंगी। सभी मार्ग हीरक चतुर्भुज नेटवर्क के जरिए जोड़े जाएंगे। इस नेटवर्क में 4 प्रमुख मेट्रो शहर दिल्ली, चेन्नई, मुंबई और कोलकाता शामिल हैं। बुलेट ट्रेन 2022 में चलाने का लक्ष्य सरकार ने रखा है। यह जानकारी सरकार ने लोकसभा में दी है। इस संबंध में नागपुर रेल मंडल स्तर से फिलहाल कोई अधिकृत जानकारी नहीं दी गई है।

नागपुर से क्रास करेंगे दो मार्ग
जानकारी अनुसार नागपुर से आनेवाले समय में दो बुलेट ट्रेनें क्रास करनेवाली हैं, जिसमें एक चेन्नई व दूसरी कोलकाता के लिए जाएगी। बुलेट ट्रेन के लिए जो  6 नए रूट तैयार किए जाने हैं, उसमें दिल्ली, चेन्नई, मुंबई, कोलकाता के साथ नागपुर व बंगलुरु को जोड़ा जाने वाला है। इन प्रोजेक्टों पर अभी फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार की जा रही है। 4 प्रमुख मेट्रो शहर दिल्ली, चेन्नई, मुंबई और कोलकाता को हीरक चतुर्भुज नेटवर्क के जरिए जोड़ा जाएगा।  इसमें नागपुर और बंगलुरु को भी शामिल किया जाएगा।

बताया गया है कि दिल्ली-मुंबई, दिल्ली-कोलकाता (लखनऊ होते हुए), मुंबई-चेन्नई, दिल्ली-चेन्नई और मुंबई-कोलकाता (नागपुर के रास्ते) और चेन्नई-बंगलुरु, मैसूर के रूट पर फिजिबिलिटी सर्वे कराया जा रहा है। इन मार्गों पर बुलेट ट्रेन दौड़ाने के लिए फ्रांस, स्पेन, चीन, जापान और जर्मनी से सहायता ले जा रही है। ये 6 रूट मुंबई-अहमदाबाद प्रोजेक्ट से अलग है।

हाईस्पीड मार्ग को बुलेट ट्रेन के लिए बनाया जा सकता है
गत चार वर्ष पहले नागपुर से बिलासपुर व सिकंदराबाद के लिए हाईस्पीड ट्रेन चलाने की घोषणा की गई थी। इसके लिए हाल ही में रेलवे बोर्ड ने इस संबंध में ट्रैक के किनारे बाउंड्री वॉल बनाने के लिए ब्योरा भेजने को कहा है। ऐसे में आनेवाले समय में सेमी हाईस्पीड रूट को और विकसित कर इस पर बुलेट चलाने की बात से इनकार नहीं किया जा सकता है। तत्कालीन रेल मंत्री सुरेश प्रभु नागपुर जब आए थे, तब उन्होंने केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के सामने नागपुर-मुंबई हाईस्पीड ट्रेन चलाने की सहमति दी थी। यह रूट समृद्धि एक्सप्रेस हाईवे से जुड़कर बननेवाला है। 

अधिकृत जानकारी नहीं है
अभी हमारे पास बुलेट ट्रेन को लेकर कोई अधिकृत जानकारी नहीं आई है। आनेवाले समय में इस संबंध में किसी भी तरह की मदद की बात आने पर हमारी ओर से पूरा सहयोग किया जाएगा।
(सोमेश कुमार, रेल प्रबंधक,  मध्य रेलवे नागपुर मंडल)
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर