comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जेट एयरवेज के चेयरमैन बोले- निवेशकों के पैसा गंवाने पर निराश हूं

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 10th, 2018 00:51 IST

452
0
0
जेट एयरवेज के चेयरमैन बोले- निवेशकों के पैसा गंवाने पर निराश हूं

News Highlights

  • नरेश गोयल ने कहा, दोषी और शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं।
  • जेट एयरवेज इस वक्त वित्तीय संकट से जूझ रही है।
  • 2 जुलाई से अब तक इस एयरलाइन के शेयर में भारी गिरावट देखने को मिली है।


डिजिटल डेस्क, मुंबई।  जेट एयरवेज (इंडिया) लिमिटेड के चेयरमैन नरेश गोयल ने गुरुवार को कहा कि वह खुद को दोषी और शर्मिंदा महसूस कर रहे हैं। गोयल ने कहा कि उनकी कंपनी के कई शेयरधारकों ने अपने पैसे गंवा दिए और यह बहुत निराशाजनक है। बता दें कि जेट एयरवेज इस वक्त वित्तीय संकट से जूझ रही है। 2 जुलाई से अब तक इस एयरलाइन के शेयर में भारी गिरावट देखने को मिली है। गुरुवार को यह 12 प्रतिशत टूट कर 286.95 रुपए पर पहुंच गया। यह जेट एयरवेज का 52 सप्ताह में न्यूनतम स्तर है।

गोयल कंपनी की सालाना आम बैठक में शेयरधारकों को संबोधित कर रहे थे। गोयल ने कहा कि अब हर क्षेत्र में काफी कंपनियां आ गई हैं। इस वजह से प्रतिस्पर्धा में भी बढ़ोतरी हुई है। इसके साथ ही ईंधन की कीमतें भी बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि वे बहुत सारे शेयरधारकों के पैसा बरबाद होने से वह काफी दुखी हैं। बता दें कि कंपनी का शेयर 5 जनवरी, 2018 को 52 सप्ताह के उच्चतम स्तर पर पहुंचा था। यह बढ़कर 883.65 रुपए हो गया था। उसके बाद से कंपनी को 67.5 प्रतिशत की गिरावट देखनी पड़ी है।

                                                        

इसके साथ ही एयरलाइन को फाइनेंशियल हेल्थ और कर्मचारियों के वेतन में भी कमी देखने को मिली है। इन बढ़ती चिंताओं के बीच गोयल ने कहा कि एक नई कमेटी की स्थापना की जाएगी। यह कमेटी, कंपनी को देखने के लोगों के नजरिये को बदलने और नकारात्मक रवैये को घटाने का काम करेगी। कंपनी के बारे में सभी धारणाओं को इस कमेटी के माध्यम से ठीक किया जाएगा। गोयल ने कहा कि एयरलाइन के डायरेक्टर नसीम जैदी और अशोक चावला नई कमिटी की अध्यक्षता करेंगे।


गोयल ने कहा कि एयरलाइन इंजीनियरिंग और फ्लाइट ऑपरेशन जैसे मामलों में एयर इंडिया से मदद लेने पर भी विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि एयर इंडिया के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर प्रदीप सिंह खरोला के साथ उनकी कई बैठक हो चुकी है।
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर