comScore

सुकमा में नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, CRPF के 9 जवान शहीद

BhaskarHindi.com | Last Modified - March 13th, 2018 19:24 IST

सुकमा में नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, CRPF के 9 जवान शहीद

डिजिटल डेस्क, रायपुर। छत्तीसगढ़ के सुकमा में एक बार फिर से नक्सलियों ने घात लगाकर CRPF जवानों पर हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि इस हमले में CRPF के 9 जवान शहीद हो गए, जबकि 6 घायल हो गए हैं। इनमें से भी 4 की हालत गंभीर बताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, CRPF की 212वीं बटालियन पेट्रोलिंग के लिए निकली थी। तभी सुकमा के किस्टाराम इलाके में घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने IED से ब्लास्ट कर दिया। बताया ये भी जा रहा है कि नक्सलियों ने CRPF जवानों पर फायरिंग भी की।

 

 

 



किस्टाराम से पलोदी जा रही थी टीम

नक्सली हमले के बाद एंटी नक्सल ऑपरेशन के स्पेशल DG  डीएम अवस्थी ने मीडिया को बताया कि 'CRPF की टीम किस्टाराम से पलोडी पेट्रोलिंग के लिए जा रही थी। ये टीम एंटी-लैंडमाइन व्हीकल में सवार थी, तभी नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर दिया।' उन्होंने बताया कि 'मौके पर एक्स्ट्रा फोर्स भेजी जा चुकी है और फिलहाल फायरिंग बंद है।'

पिछले साल 11 मार्च को ही हुआ था बड़ा हमला

बता दें कि पिछले साल ही 11 मार्च 2017 को नक्सलियों ने बड़ा हमला किया था। उस वक्त नक्सलियों ने बस्तर में CRPF की एक पार्टी पर हमला किया था, जिसमें 11 जवान शहीद हो गए थे। इतना ही नहीं नक्सली जवानों के मोबाइल और हथियार भी लूटकर भाग गए थे। इसके बाद 24 अप्रैल 2017 को सुकमा में एक और बड़ा नक्सली हमला हुआ था, जिसमें 25 जवान शहीद हो गए थे।

पिछले दिनों ही 10 नक्सलियों को किया था ढेर

इसी महीने की शुरुआत में छत्तीसगढ़ के बीजापुर में 10 नक्सलियों को ढेर कर दिया था। बीजापुर के नक्सल प्रभावित क्षेत्र पुजारी कांकेर में छत्तीसगढ़ और तेलंगाना पुलिस ने ज्वॉइंट ऑपरेशन चलाकर 10 नक्सलियों को मौत के घाट उतार दिया था। इस ऑपरेशन में पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किए थे।

8 मार्च को ही 29 नक्सलियों ने किया था सरेंडर

छत्तीसगढ़ के सुकमा में ही बीते 8 मार्च को 29 नक्सलियों ने सरेंडर किया था। इन नक्सलियों में 11 महिलाएं भी शामिल थी। पुलिस के मुताबिक, इन नक्सलियों में कई खूंखार और चालाक नक्सली भी थे। पुलिस का ये भी कहना था कि सालों बाद इतनी बड़ी संख्या में नक्सलियों ने सरेंडर किया है।

छत्तीसगढ़ के अब तक बड़े नक्सली हमले

- 12 अप्रैल 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान भी नक्सलियों ने हमला किया। बीजापुर और दरभा घाटी में IED ब्लास्ट में 5 जवानों समेत 14 लोगों की मौत हो गई थी। इस हमले में पहली बार नक्सलियों ने एंबुलेंस को अपना निशाना बनाया। जिससे एंबुलेंस में CRPF के 5 जवानों समेत एंबुलेंस ड्राइवर और कंपाउंडर की भी मौत हो गई थी।
 
- 11 मार्च 2014 को झीरम घाटी के नजदीक नक्सलियों ने हमला किया। इसमें 15 जवान शहीद हुए थे और एक ग्रामीण की मौत हो गई थी। इतना ही नहीं नक्सलियों ने इस हमले के बाद एक शहीद जवान के शव में IED फिट कर दिया था ताकि जब जवान शव को उठाने आएं तो ब्लास्ट हो जाए और जवानों को नुकसान हो, लेकिन नक्सलियों की ये चाल कामयाब नहीं हो पाई और शव उठाने से पहले ही बम डिएक्टिवेट कर दिया गया था।
 
- 25 मई 2013 को नक्सलियों ने झीरम घाटी में 'परिवर्तन यात्रा' पर निकले कांग्रेस पार्टी के नेताओं के काफिले पर हमला बोल दिया था। पार्टी के काफीले को रोकने के लिए नक्सलियों ने सड़क पर ब्लास्ट भी किया। जिससे सड़क पर 10 फीट गहरा गड्ढा हो गया था। इसके बाद नक्सलियों की अंधाधुंध फायरिंग में बस्तर टाइगर महेंद्र कर्मा, तत्कालीन PCC चीफ नंद कुमार पटेल, पूर्व केंद्रीय मंत्री विद्या चरण शुक्ल समेत 30 से ज्यादा कांग्रेसी नेता मारे गए थे।
 
- 6 अप्रैल 2010 को दंतेवाड़ा जिले के ताड़मेटला में नक्सलियों का बड़ा हमला हो चुका है। इसमें CRPF के 76 जवान शहीद हो गए थे।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l