comScore

विधानसभा चुनाव : NCP  में गठबंधन को लेकर सस्पेंस

November 29th, 2018 14:56 IST
विधानसभा चुनाव : NCP  में गठबंधन को लेकर सस्पेंस

डिजिटल डेस्क, नागपुर। विधानसभा चुनाव को लेकर शहर  NCP  में माहौल गरमाने लगा है।  NCP (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी )में विधानसभा चुनाव लड़ने के इच्छुक नेताओं में छटपटाहट साफ देखी जाने लगी है। कांग्रेस के साथ गठबंधन हाेने की स्थिति में भी शहर में 2 सीटों पर NCP  दावा कर सकती है। लिहाजा इच्छुक उम्मीदवार अपने-अपने तरह से अपनी दावेदारी को आगे बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। 11 दिसंबर को मुुंबई में प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटील की अध्यक्षता में प्रदेश पदाधिकारियों की समीक्षा बैठक होगी। संकेत दिए जा रहे हैं कि उस बैठक में भी इच्छुकों की बात रखने की तैयारी है। गौरतलब है कि एनसीपी व कांग्रेस ने 2014 में लोकसभा चुनाव तो साथ साथ लड़ा था, लेकिन विधानसभा चुनाव में गठबंधन नहीं हो पाया था। तब NCP  को विधानसभा की कई सीटों पर सक्षम उम्मीदवार भी नहीं मिल पाए थे। शहर में भी वही स्थिति बनी थी। दक्षिण नागपुर में कांग्रेस का टिकट नहीं मिलने पर तत्कालीन विधायक दीनानाथ पडोले ने NCP का हाथ थामा था। NCP की टिकट पर चुनाव भी लड़ा। शेष सीटों पर NCP उम्मीदवारों की स्थिति अधिक अच्छी नहीं रही।

इस तरह दूर की नाराजगी 
दावा किया गया कि पश्चिम नागपुर से उम्मीदवारी दी जाए तो वह पूर्व नगरसेवक आसानी से NCP  को जीत दिला देगा। फिलहाल वह NCP  में नहीं है। बताते हैं कि विधानसभा उम्मीदवारी के दावेदार के तौर पर पूर्व नगरसेवक से पवार की मुलाकात कराने का मामला अन्य पदाधिकारियों के बीच कसमसाहट का विषय बना। पश्चिम नागपुर के ही वरिष्ठ NCP  नेता व पूर्व नगरसेवक ने मामले को लेकर ऐसा विरोध जताया कि शहर राकांपा में ही परेशानी बढ़ने के संकेत मिलने लगे थे। तब सिविल लाइन के बंगले में विशेष बैठक लेकर नाराजगी दूर की गई। दक्षिण नागपुर में पूर्व विधायक दीनानाथ पडोले के अलावा पूर्व नगरसेवक राजू नागुलवार का नाम इच्छुक उम्मीदवारों में गिनाया जाता है। दुनेश्वर पेठे NCP के एकमात्र नगरसेवक हैं। प्रशासन विरोधी प्रदर्शनों व अन्य सामाजिक कार्यों के माध्यम से वे सूर्खियों में बने रहते हैं। पूर्व नागपुर से विधानसभा चुनाव लड़ चुके पेठे के बारे में चर्चा है कि इस बार भी वह चुनाव लड़ने के इच्छुक है। दिसंबर के दूसरे सप्ताह में पूर्व नागपुर में NCP  का बड़ा कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित करने की तैयारी चल रही है। यह भी चर्चा है कि शहर में संगठन कार्य को बूथ स्तर पर अपेक्षित गति नहीं मिल पाने का विषय भी गर्माया है। तमाम स्थितियों पर संगठनात्मक मामलों की बैठक में समीक्षा होंगी। 

उम्मीदवारों की उम्मीदें और भी बढ़ीं
बताया जा रहा है कि वरिष्ठ नेता अजित पवार व प्रदेश अध्यक्ष पाटील ने भी विधानसभा की सभी सीटों के लिए उम्मीदवार तलाशने के लिए पार्टी पदाधिकारियों को कहा है लिहाजा यहां इच्छुक उम्मीदवारों की उम्मीदें और भी बढ़ गई। पार्टी से जुड़े सूत्र के अनुसार 21 नवंबर को शहर में संगठनात्मक मामलों के निरीक्षक धनंजय दलाल ने पदाधिकारियों से चर्चा की। NCP  के सभी प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों को बूथ स्तर पर सदस्य बढ़ाने को कहा। उस दौरान भी कुछ पदाधिकारियों ने विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रहे नेताओं के नाम गिनाये। इससे पहले काटोल में एक कार्यक्रम के सिलसिले में आए अजित पवार से एक पूर्व नगरसेवक की मुलाकात कराई गई। उस नेता की पत्नी नगरसेवक है। 

केवल संगठन की होगी चर्चा
यह सही है कि  NCP  चुनाव तैयारी के तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र स्तर पर संगठन को मजबूत कर रही है। फिलहाल विधानसभा चुनाव के लिए इच्छुक उम्मीदवार का विषय कहीं भी चर्चा में नहीं आया है। प्रदेश स्तर पर संगठन कार्य की समीक्षा होगी। दिसंबर में ही राकांपा अध्यक्ष शरद पवार का जन्मदिन है। उनके जन्मदिन पर विविध कार्यों के माध्यम से NCP  के संगठन कार्याें में और भी तेजी आएगी।   - प्रवीण कुंटे पाटील, प्रदेश प्रवक्ता राकांपा

कमेंट करें
qFUTG
कमेंट पढ़े
Gaurav Gawai January 06th, 2019 18:59 IST

B J P ko is sal haran hay