comScore

नेपाल: मुक्तिनाथ के पास सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

BhaskarHindi.com | Last Modified - May 16th, 2018 14:09 IST

नेपाल: मुक्तिनाथ के पास सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

डिजिटल डेस्क, काठमांडू। नेपाल में मुक्तिनाथ के पास आज हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया। इस हादसे में दोनों पायलट मारे गए हैं। नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के उप महानिदेशक राजन पोखरेल ने काठमांडू पोस्ट से बातचीत में कहा कि पायलट किरण भट्टाराई और सह-पायलट आदित्य नेपाली की इस दुर्घटना में मौत हो गई है।

 

पैसेंजर सर्विस के लिए उपयोग किए जाते थे हेलीकॉप्टर 

 

जिस वक्त हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ उस समय वह 12800 फुट की ऊंचाई पर उड़ रहा था। क्रैश हेलीकॉप्टर सिंगल इंजन का सेसन 208बी मॉडल था, जिसने सुरखेत के हुमला हेडक्वार्टर से उड़ान भरी थी। इसे सुबह सात बजे सिमिकोट पहुंचना था। मकालु एयर सर्विसेस का यह हेलीकॉप्टर कार्गो और पैसेंजर सर्विस के लिए उपयोग किया जाता था।

 

हादसे के कारणों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। 

 

नेपाल के गृह मंत्रालय की ओर से हालांकि साफ किया गया है कि यह हेलीकॉप्‍टर माकालू एयर का था और सेना की ओर से सामान ढोने के लिए इस हेलीकॉप्‍टर की रिक्‍वेस्‍ट की गई थी। हेलीकॉप्‍टर का मलबा नेपाल के खारपुनाथ के हुमला में लिा है। हेलीकॉप्‍टर हुमला से सुरखेत जा रहा था तभी इसका संपर्क एटीसी से टूट गया था। इस घटना में और ज्‍यादा जानकारी का इंतजार है।

 

बता दें कि हुमला करनाली जिले के सबसे दूरस्थ इलाकों में से एक है। यहां केवल छोटे एयरफ्राफ्ट्स की मदद से ही पहुंचा जा सकता है। बुधवार को हुए हादसे से करीब 2 महीने पहले भी त्रिभुवन इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में 51 लोगों की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग घायल हो गए थे। 

Similar News
नेपाल: खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, 5 की मौत

नेपाल: खाई में गिरी यात्रियों से भरी बस, 5 की मौत

पशुपतिनाथ मंदिर में दर्शन के बाद पीएम मोदी ने की पूर्व पीएम पुष्प दहल से मुलाकात

पशुपतिनाथ मंदिर में दर्शन के बाद पीएम मोदी ने की पूर्व पीएम पुष्प दहल से मुलाकात

अयोध्या पहुंची भारत-नेपाल मैत्री बस, सीएम योगी ने किया वेलकम

अयोध्या पहुंची भारत-नेपाल मैत्री बस, सीएम योगी ने किया वेलकम

नेपाल ने चीन की अरबों डॉलर की परियोजना को किया इंकार

नेपाल ने चीन की अरबों डॉलर की परियोजना को किया इंकार

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

loading...