comScore

तीन माह में एक बार करना होगा मोबाइल चार्ज

July 27th, 2017 19:50 IST
तीन माह में एक बार करना होगा मोबाइल चार्ज

टीम डिजिटल, नई दिल्ली। आप सभी अपने मोबाइल फोन को दिन में दो से तीन बार तो चार्ज करते ही होंंगे। तो अब से आपको ऐसा नहीं करना पड़ेगा, क्याेंकि वैज्ञानिकों ने ऐसी तकनीक खोज ली है, जिससे हर तीन महीने में सिर्फ एक बार आपको अपना फोन चार्ज करना होगा। 

वैज्ञानिकों ने एक नई तकनीक तैयार की  है, जो प्रोसेसर को 100 गुना कम ऊर्जा का उपयोग करने की अनुमति देता है। मिशिगन और कॉर्नेल विश्वविद्यालय के रिसर्चर ने एक मैग्नेटोइलेक्ट्रिक मल्टीफेरिक मटीरियल परमाणुओं की पतली परतों का बनाया है, जो चुंबकीय ध्रुव बनाते हैं। इस सिद्धांत का उपयोग बाइनरी कोड 1 और 0 को भेजने के लिए किया जा सकता है, जिस पर हमारे कंप्यूटर काम करते हैं। आसान भाषा में वे बिजली के केवल एक छोटे से हिस्से का उपयोग करके डेटा रिसीव और सेंड कर सकते हैं। मौजूदा प्रोसेसर सेमीकंडक्टर बेस्ड सिस्टम के उपयोग से बनाए जाते हैं, जिन्हें लगातार करंट फ्लो की जरूरत होती है। पर मैग्नेटोइलेक्ट्रिक मल्टीफेरिक्स सिस्टम का उपयोग कर बनाए जाने वाले प्रोसेसर को बिजली के कम पल्स की जरूरत होगी, जिससे कम ऊर्जा का उपयोग लंबे समय तक किया जा सकेगा।

लॉरेंस बर्कले नैशनल लैबरेटरी में सहयोगी प्रयोगशाला निदेशक राममूर्ति रमेश के मुताबिक, इलेक्ट्रॉनिक्स वर्तमान में कुल वैश्विक ऊर्जा के 5 प्रतिशत का कन्ज्यूम करते हैं। 2030 तक यह कंजंप्शन बढ़कर 40 फीसदी से 50 फीसदी हो जाएगा। यह तकनीक ऊर्जा उपभोग के क्षेत्र में अच्छी साबित होगी।

कमेंट करें
HaP7O