comScore

दो दिन से एसएनसीयू में मृत पड़ा है नवजात, लेने नहीं आए परिजन

दो दिन से एसएनसीयू में मृत पड़ा है नवजात, लेने नहीं आए परिजन

डिजिटल डेस्क, मंडला। मंडला जिले में मानवता शर्मशार हो रही है। यहां पिछले दो दिन से एसएनसीयू में नवजात मृत पड़ा है। मृत नवजात को लेने के लिए परिजन नही आ रहे है। मृतक के दफन के लिए पुलिस और नपा को अस्पताल प्रबंधन ने सूचना भेजी है, लेकिन किसी ने शव के कफन-दफन के लिए जेहमत नहीं उठाई है। जानकारी के मुताबिक घुघरी विकासखंड के ग्राम शैलवाड़ा से 13 मई को जन्म के बाद 28 हफ्ते के नवजात को जिला अस्पताल की एसएनसीयू यूनिट में भर्ती कराया गया है। नवजात का वजन 700 ग्राम था, सांस लेने में तकलीफ हो रही थी।  कुपोषित होने के कारण नवजात का एनएससीयू में उपचार शुरू किया गया लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। 22 मई को सुबह करीब 11.30 बजे नवजात ने दम तोड़ दिया है। इसके बाद नवजात को देखने के लिए कोई नही आया। दो दिन से मृत अवस्था में एसएनसीयू में पड़ा है। लेकिन उसका कफन-दफन नही हो पाया है।

परिजन लेने नही आ रहे
अस्पताल प्रबंधन ने इलाज के दौरान दिये गये मोबाइल नम्बर पर संपर्क किया। लेकिन संपर्क नही हो पाया। इसके बाद ग्राम की आशा कार्यकर्ता से संपर्क किया गया। आशा कार्यकर्ता ने मृत नवजात के परिजनों का सूचित कर दिया है लेकिन उन्होने कोई जवाब तक नहीं दिया। आशा कार्यकर्ता तीन बार परिजनों के पास जा चुकी है। लेकिन वह शव ले जाने के लिए नही आये हैं।

नपा, पुलिस को दी सूचना
एसएनसीयू में नवजात की मौत के बाद अस्पताल प्रबंधन ने कफन-दफन कराने के लिए स्थानीय चौकी पुलिस को भी सूचना दी है। लेकिन कोई भी मृत नवजात के शव को लेने के लिए नहीं आया। मानवीय दृष्टिकोण से भी नवजात के शव को कफन-दफन के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है। जिससे मानवता शर्मशार हो रही है।

इनका कहना है
मृत नवजात के परिजनों को सूचना दी गई है, नगर पालिका और पुलिस को सूचित किया गया है लेकिन कोई शव लेने नहीं आया है, शव को शव शीतगृह में शिफ्ट करा दिया है। 
डॉ श्याम रोटेला, एसएनसीयू प्रभारी जिला अस्पताल मंडला

कमेंट करें
ln0RH