comScore

NIA ने तमिलनाडु में मारे ताबड़तोड़ छापे, हमले की फिराक में थे आतंकी


हाईलाइट

  • भारत के खइलाफ युद्ध छेड़ने का आरोप
  • अंसरुल्ला संगठन बनाकर काम कर रहे थे आतंकी
  • शुफिया सूचना के बाद एनआईए ने मारा छापा

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) ने सैयद मोहम्मद बुखारी के चेन्नई स्थित घर और ऑफिस पर अंसारुल्ला मामले में छापेमारी की। इसके अलावा हरीश मोहम्मद और हसन अली युनुसमरिकर के तमिलनाडु के नागापट्टिनम स्थित घर पर भी छापेमारी की गई है। सभी के खिलाफ आतंकी संगठन अंसारुल्ला बनाकर भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश का मामला दर्ज किया गया था।

एनआईए ने बयान जारी कर कहा कि इस मामले में आईपीसी की धारा 120बी, 121ए, और 122 के अलावा गैरकानूनी गतिविधि की धारा 17,18, 18 बी और 39 के तहत 9 जुलाई को मामला दर्ज किया गया है, खुफिया सूचना के आधार पर शनिवार को एनआईए ने छापेमारी की है।
 
छापेमारी में एनआईए ने 9 मोबाइल, 15 सिम कार्ड, 7 मेमोरी कार्ड, 3 लैपटॉप, 5 हार्ड डिस्क, 6 पेन ड्राइव, 2 टैबलेट और 3 सीडी/डीवीडी के अलावा कुछ दस्तावेज भी बरामद किए हैं, इसमें मैगजीन, बैनर, नोटिस, पोस्टर और किताबें हैं, इस मामले में एनआईए ने तीन आरोपियों से पूछताछ भी की है।

इससे पहले दिल्ली के जाफराबादऔर सीलमपुर के 6 स्थानों और लखनऊ, अमरोहा, हापुड़ और मेरठ में 11 स्थानों पर छापेमारी की थी। उस समय एनआईए ने दिल्ली पुलिस की विशेष सेल और यूपी पुलिस के आतंक रोधी दस्ते के साथ कार्रवाई को अंजाम दिया था। छापामार टीम ने अनास यूनिस (24), राशिद जफर राक उर्फ जफर (23), जुबैर मलिक (20), साकिब इफ्तिकार (26), मुफ्ती मोहम्मद सुहैल उर्फ हजरत (29) को गिरफ्तार किया था।

कमेंट करें
AQBpR