comScore
Dainik Bhaskar Hindi

जाक दुबोशे, जोआखिम फ्रैंक और रिचर्ड हेंडर्सन को रसायन का नोबेल

BhaskarHindi.com | Last Modified - October 05th, 2017 13:59 IST

1k
0
0

डिजिटल डेस्क, स्टॉकहोम। बुधवार को केमिस्ट्री के नोबेल पुरस्कारों की घोषणा की गई। स्विस शोधकर्ता जैक्स ड्यूबचित, जोएचिम फ्रैंक और रिचर्ड हेंडरसन को क्रायो माइक्रोस्कोपी का आविष्कार करने के लिए संयुक्त नोबेल पुरस्कार दिया गया।

तीनों वैज्ञानिकों ने बॉयोमालीक्यूल्स के सॉल्यूशन के उच्च संकल्प संरचना के निर्धारण के लिए क्रायो इलेक्ट्रान माइक्रोस्कोपी को विकसित किया था। जैक्स ड्यूबचित स्विजरलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ लूसियाना में कार्यरत हैं। जबकि योआखिम फ्रैंक न्यूयॉर्क की कोलंबिया यूनिवर्सिटी से हैं, वहीं रिचर्ड हेंडरसन कैंब्रिज के एमआरसी लैबोरेट्री ऑफ मॉलिक्यूलर बायोलॉजी में कार्यरत हैं। 

शोधकर्ताओं को मिलेगी मदद

नोबेल पुरस्कार देने वाली समिति ने कहा है इस खोज से शोधकर्ताओं को जैवरासायनिक अणुओं की तस्वीर लेकर उनकी गतिविधियों पर नजर रखने में आसानी होगी। जिससे कि अब शोधकर्ता उन प्रक्रियाओं की भी कल्पना कर सकते हैं, जो उन्होंने कभी नहीं देखी थी। लेकिन अब शोधकर्ताओं को क्रायो इलेक्ट्रान माइक्रोस्कोपी की मदद से बायोमॉलिक्यूल की 3D तस्वीरें हासिल कर सकते हैं।

कल मिलेगा साहित्य का नोबेल

गौरतलब है कि इससे पहले 2 अक्टूबर को चिकित्सा क्षेत्र के लिए और 3 अक्टूबर को भौतिक विज्ञान के क्षेत्र के लिए नोबेल पुरस्कार की घोषणा की जा चुकी है। आपको बता दें कि 2016 में रसायन विज्ञान को नोबेल पुरस्कार ज्यां-पियरे सोवेज, के जे फ्रैसर स्टाडर्ट और बर्नार्ड फेरिंगा को दिया गया था। कल साहित्य के नोबेल की घोषणा की जाएगी, वहीं शुक्रवार को शांति का नोबेल दिया जाएगा।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर