comScore

उ.कोरिया का मिसाइल परीक्षण, अमेरिका बोला 'तबाह कर देंगे'

November 30th, 2017 17:29 IST

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। बुधवार तड़के उत्तर कोरिया ने जापानी सागर में मिसाइल प्रशिक्षण किया था। अमेरिका ने यूएन की इमरजेंसी बैठक में कहा है कि अगर हम पर युद्ध थोपा गया तो हम उत्तर कोरिया को तबाह कर देंगे। गौरतलब है कि तानाशाह किम जोंग उन ने पूरे 75 दिन बाद यूएन की चेतावनियों के बाद एक बार फिर गुस्ताखी की और 13000 किलोमीटर दूर मार करने वाली मिसाइल लॉन्च की। अमेरिका ने चेतावनी के साथ ही सभी देशों से अपील की है कि वो उत्तर कोरिया से सभी तरह के रिश्ते खत्म कर दें। इसके साथ ही ट्रंप ने चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग से भी बात कर नॉर्थ कोरिया को तेल सप्लाई बंद करने के लिए कहा।

                                     Image result for america Nikki Haley in un

अमेरिका-उत्तर कोरिया के बीच दूरी 11000 किलोमीटर

उत्तर कोरिया ने जो मिसाइल बुधवार को 'हुवासांग 15' लॉन्च की वो 13000 किलोमीटर तक मार कर सकती है। इस मिसाइल प्रशिण से अमेरिका इसलिए चिंतित है क्योंकि अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच दूरी 11000 किलोमीटर है। उत्तर कोरिया का दावा है कि नई मिलाइल की जद में पूरा अमेरिका आ गया है। 2017 की शुरुआत से अब तक तानाशाह 23 मिसाइलों का प्रशिक्षण कर चुका है, लेकिन नई मिसाइल हुवासांग 15 काफी खतरनाक साबित हो सकती है। दावा किया जा रहा है कि ये मिसाइल 50 मिनट तक आसमान में रही और करीब 4500 किलोमीटर की ऊंचाई तक गई। उसके बाद ये मिसाइल ‘सी ऑफ जापान’ में जाकर गिरी। उत्तर कोरिया ने दावा किया है कि उसने नए तरह की इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया है। सरकारी टीवी का कहना है कि उत्तर कोरिया ने परमाणु शक्ति संपन्न होने की राह में अपना मिशन हासिल कर लिया है।

                             Image result for america on north korea on missile test

हाइड्रोजन बम का किया परीक्षण

इससे पहले उत्तर कोरिया हाइड्रोजन बम का परीक्षण कर चुका है जो परमाणु बम से भी कई गुना ज्यादा शक्तिशाली है। उत्तर कोरिया तमाम प्रतिबंध के बावजूद लगातार मिसाइल परीक्षण कर रहा है, ऐसे में अगर अमेरिका सैन्य कार्रवाई करता है तो परमाणु युद्ध का होना तय है।

दुनिया हुई उत्तर कोरिया के खिलाफ

जापान, अमेरिका, दक्षिण कोरिया के साथ-साथ दुनिया के कई देशों ने उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण का विरोध किया है। डॉनल्ड ट्रंप ने कहा, 'आपने भी सुना होगा कि उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षण किया है। हम इसका ध्यान रखेंगे। जनरल मैटिस हमारे साथ हैं और इस पर हमने लंबी चर्चा की है, हालात को हम काबू में कर लेंगे।'
उत्तर कोरिया को लेकर सुरक्षा परिषद भी हरकत में है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरस ने कहा है कि उत्तर कोरिया का लंबी दूरी के हालिया मिसाइल परीक्षण सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का सीधा उल्लंघन है। 


 

कमेंट करें
3JI8m