comScore

अब पांच साल तक के बच्चों के लिए भी अनिवार्य होगा आधार कार्ड

February 26th, 2018 18:16 IST


 

डिजिटल डेस्क । आधार को लेकर पिछले काफी वक्त से देश में खींचतान चल रही है। आधार को हर जरूरी दस्तावेज से लिंक करने के सरकार के फैसले का काफी विरोध जताया जा रहा है। इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में भी मुकदमा चल रहा है। इन सबके बीच अब आधार को लेकर एक बड़ी खबर आई है। यूनीक आइडेंडिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) की नई आधार योजना में अब नवजात शिशुओं को भी जोड़ा जाएगा। इसके तहत अब नवजात बच्चों से लेकर पांच साल तक के बच्चों का आधार कार्ड बनवाना अनिवार्य होगा। यूआईडीएआई ने पांच साल से कम उम्र के बच्चों के लिए नीले रंग का बाल आधार कार्ड योजना शुरू किया है। बाल आधार कार्ड बनवाने के लिए बच्चे का जन्म प्रमाणपत्र और अभिभावकों के आधार कार्ड का नंबर अनिवार्य होगा।

कैसे बनेगा बच्चों का आधार ?

पांच साल से कम उम्र के बच्चों का बायोमेट्रिक कराने की तकनीकी अभी तक विकसित नहीं की गई है। इसलिए बच्चों को आधार कार्ड जारी करने के लिए फिंगरप्रिंट्स और पुतलियां स्कैन कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जब बच्चे की उम्र पांच साल से अधिक हो जाएगी तब उसे बायोमेट्रिक आधार अपडेट कराने की जरूरत पड़ेगी।

Image result for आधार

 'बाल आधार' कार्ड नंबर के लिए क्या करें?

- नामांकन केंद्र पर जाएं और नामांकन फॉर्म भरें।

- बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र प्रदान करें। एक माता पिता को भी प्रमाणीकरण उद्देश्यों के लिए माता-पिता अपना आधार कार्ड नंबर दें। 

- इसमें माता-पिता का मोबाइल नंबर भी अनिवार्य होगा। मोबाइल नंबर वहीं मान्य होगा जो आधार से लिंक हो। 

- इस मामले में आवेदक की उम्र पांच से नीचे है। इसलिए कोई बायोमेट्रिक्स दर्ज नहीं किया जाएगा और केवल पासपोर्ट साइज फोटो की आवश्यकता होगा। 

- आपके बच्चे की तस्वीर को क्लिक किया जाएगा।

- बच्चे का 'आधार' उनके माता-पिता के यूआईडी (आधार कार्ड नंबर) से जोड़ा जाएगा।

- पंजीकरण और सत्यापन प्रक्रिया पूरी होने के बाद, एक पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक एसएमएस भेज दिया जाएगा। इस संदेश को प्राप्त करने के 60 दिनों के अंदर, आधार कार्ड नवजात शिशु को नंबर जारी किया जाएगा।

कमेंट करें
Survey
आज के मैच
IPL | Match 42 | 24 April 2019 | 08:00 PM
RCB
v
KXIP
M. Chinnaswamy Stadium, Bengaluru