comScore
Dainik Bhaskar Hindi

वाट्सएप के माध्यम से सुधारा जाएगा स्कूलों का रिजल्ट, लोक शिक्षण संचानालय ने जारी किए आदेश

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 14th, 2018 19:39 IST

1.3k
0
0
वाट्सएप के माध्यम से सुधारा जाएगा स्कूलों का रिजल्ट, लोक शिक्षण संचानालय ने जारी किए आदेश

डिजिटल डेस्क, दमोह। शासकीय स्कूलों के रिजल्ट को सुधारने के लिए लोक शिक्षण संचानालय द्वारा ज्ञानपुंज दल की सदस्यों के माध्यम से व्हाट्सप्प ग्रुप बनाकर शिक्षा के स्तर को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। इस हेतु ग्रुप में जिला शिक्षा अधिकारी जिले के डीपीसी सहित अन्य अधिकारियों को भी जोड़ कर लगातार शिक्षकों को अपने निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। सभी शिक्षकों को इस बात के लिए संकल्पित किया जाएगा कि वह अपने लक्ष्य को पूरा करें और शाला के परीक्षा परिणाम प्रभावित ना हों इस हेतु लोक शिक्षण संचानालय द्वारा आदेश भी जारी कर दिए गए हैं।

इस ग्रुप में केवल शिक्षा की गुणवत्ता एवं परीक्षा परिणाम में वृद्धि से संबंधित विषय पर ही चर्चा की जाएगी। ग्रुप के नियम तोडऩे वाले शिक्षक के विरुद्ध सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। हिंदी एवं संस्कृत विषय के शिक्षकों को प्रोत्साहित करने के लिए ए प्लस एवं ए ग्रेड विद्यार्थियों के लक्ष्य पूर्ति का आधार माना जाएगा। वहीं अन्य विषयों के शिक्षकों के लिए सभी श्रेणी के बच्चों को लक्ष्य पूर्ति का आधार माना जाएगा।

30 सितंबर तक पूरी हो प्रक्रिया
हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी के प्राचार्य तथा विषय शिक्षकों को परीक्षा परिणाम में सुधार लाने के लिए 30 सितंबर तक योजना तैयार करना है।स्कूलों द्वारा निर्धारित लक्ष्य की पूर्ति ना करने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। स्कूलों की मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी जिला शिक्षा अधिकारी को दी गई है।

जिले में गठित ज्ञानपुंज टीम
अभी तक जिले में योग्य शिक्षकों के ना मिलने के कारण जहां टीम का गठन नहीं हो सका है। वहीं ज्ञानपुंज टीम के लिए शिक्षकों का चयन शीघ्र ही किए जाने की प्रक्रिया चल रही है। टीम बनाने के लिए 9 सदस्यों की जरूरत होती है। ज्ञानपुंज टीम के शिक्षक की बैठने की व्यवस्था इस वर्ष उत्कृष्ट विद्यालयों में की गई है।

उत्कृष्ट एवं मॉडल स्कूल का लक्ष्य
श्रेणी1 - 90 प्रश या उससे अधिक अंक का लक्ष्य निर्धारित करने वाले विद्यार्थियों की सख्या
श्रेणी 2 -80 या 89 प्रतिशत तक अंक का लक्ष्य निर्धारित करने वाले विद्यार्थियों की संख्या
श्रेणी 3 -70 या 79 प्रतिशत तक अंक का लक्ष्य निर्धारित करने वाले विद्यार्थियों की संख्या
श्रेणी 4 -60 या 69 प्रतिशत तक अंक का लक्ष्य निर्धारित करने वाले विद्यार्थियों की संख्या

इनका कहना है
जिले में ज्ञानपुंज योजना के अंतर्गत कमेटियों का गठन 30 सितंबर तक पूर्ण कर लिया जाएगा
एसएन हसन प्रभारी जिला शिक्षा, अधिकारी, दमोह

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर