comScore

आपत्तिजनक ऑडियो वायरल , निवाड़ी टीआई लाइन अटैच

आपत्तिजनक ऑडियो वायरल , निवाड़ी टीआई लाइन अटैच

डिजिटल डेस्क, निवाड़ी। पुलिस अधीक्षक मुकेश कुमार श्रीवास्तव ने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक ऑडियो वायरल होने के बाद थाना प्रभारी निवाड़ी वीरेन्द्र सिंह चौहान को तत्काल प्रभाव से आगामी आदेश तक पुलिस लाइन ओरछा में संबद्ध किया गया, लेकिन इसके बाद महज एक घंटे के भीतर ही पुलिस महानिरीक्षक सागर का दूसरा आदेश निवाड़ी टीआई के लिए जारी कर दिया गया और उसके अनुसार उन्हें सागर टीआई पदस्थ कर दिया गया। एसपी ने बताया कि आईजी का आदेश आज ही प्राप्त हुआ है। ऑडियो की जांच एसडीओपी अशोक घनघोरिया को सौंपी गई है। जिसकी जांच रिपोर्ट आने के बाद आईजी को अवगत कराया जाएगा। 

ज्ञातव्य है कि निरीक्षक वीरेन्द्र सिंह चौहान थाना प्रभारी निवाड़ी के खिलाफ सोशल मीडिया पर आपत्ति जनक ऑडियो वायरल होने पर पुलिस की छवि धूमिल हुई है, जिस कारण निरीक्षक वीरेन्द्र सिंह चौहान थाना प्रभारी निवाड़ी को तत्काल प्रभाव से आगामी आदेश तक पुलिस लाइन ओरछा संबद्ध किया गया है एवं थाने का चालू कार्य उप निरीक्षक अंकित दुबे थाना निवाड़ी संपादित करेंगे। लोगों में चर्चा है कि एक ओर पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस की छवि धूमिल होने के कारण निवाड़ी टीआई को पद से हटा कर ओरछा लाइन अटैच किया गया, वहीं पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी द्वारा सागर टीआई बनाने का आदेश जारी किया गया।

पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन- पुलिस अधीक्षक श्रीवास्तव को निवाड़ी के समस्त पत्रकारों द्वारा ज्ञापन सौंपा गया, जिसमें बताया गया कि थाना प्रभारी द्वारा पत्रकारों को फर्जी मामले में फंसाने की कोशिश की जा रही है। ज्ञापन में बताया गया कि 9 जुलाई को थाना प्रभारी वीरेन्द्र सिंह का एक ऑडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह एक महिला से पैसों व अन्य बातों का उल्लेख कर रहे थे, जिस ऑडियो को लेकर निवाड़ी के पत्रकार महिला से वर्जन लेने गए थे, उसी से नाराज होकर निवाड़ी थाना प्रभारी द्वारा महिला के पति राजू प्रजापति से पत्रकारों की झूठी रिपोर्ट करवाने के लिए दबाव बना रहे हैं।

कमेंट करें
cwTPA