comScore

पेट्रोलियम कंपनियों ने फिर बढ़ाए दाम, पेट्रोल 32 पैसे और डीजल 43 पैसे महंगा

BhaskarHindi.com | Last Modified - May 15th, 2018 12:48 IST

पेट्रोलियम कंपनियों ने फिर बढ़ाए दाम, पेट्रोल 32 पैसे और डीजल 43 पैसे महंगा

डिजिटल डेस्क । कर्नाटक चुनाव का असर पेट्रोल-डीजल के दामों पर दिख रहा है। सोमवार को पेट्रोल 17 पैसे महंगा हुआ और डीजल 21 पैसे महंगा हुआ था, लेकिन मंगलवार को एक बार फिर पेट्रोल और डीजल महंगा हुआ है।  कर्नाटक चुनाव के नतीजे आने से पहले ही पेट्रोल 15 पैसे और डीजल 22 पैसे महंगा हो गया। यानी 20 दिन बाद पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल सीधा 32 पैसे और डीजल 43 पैसे महंगा कर दिया है। 

दाम बढ़ने से दिल्ली में पेट्रोल 5 साल के उच्चतम स्तर 74.95 पैसे पर पहुंच गया है। वहीं, डीजल की बात करें तो दिल्ली में इसका भाव 66.36 पर पहुंच गया है। डीजल का यह अब तक का रिकॉर्ड स्तर है।

क्यों 20 दिन बाद अचनाक बढ़े दाम?

कर्नाटक चुनाव के मद्देनजर सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को 24 अप्रैल अगले 20 दिनों तक कोई बदलाव नहीं किया था, लेकिन ये पहले से तय था कि कंपनियां अपना नुकसान पूरा करने के लिए तेल के दाम में तेज बढ़ोतरी शुरू करेंगी।

दरसअल पेट्रोल-डीजल के दाम अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों पर निर्भर करते हैं। कच्चे तेल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। ब्रेंट क्रूड जहां 78 डॉलर प्रति बैरल के पार निकल गया है वहीं, नायमैक्स पर क्रूड के दाम 71 डॉलर प्रति बैरल के पार निकल चुकी हैं। इससे पहले कच्चा तेल 2014 में इतना महंगा हुआ था। करीब 4 साल के बाद कच्चे तेल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं। 

पेट्रोल-डीजल की कीमतें अभी और बढ़ेंगी। 19 दिन तक कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ। जिसकी वजह से तेल कंपनियों को काफी नुकसान हुआ है। इसकी भरपाई के लिए कंपनियों को करीब 4-5 रुपए तक दाम बढ़ाने होंगे. ऐसे में पेट्रोल 3 और डीजल 4 रुपए तक महंगा हो सकता है। दिल्ली में पेट्रोल की कीमतें 76 रुपए और डीजल 68 रुपए का स्तर छू सकता है।

रुपए में कमजोरी भी है वजह

ऑयल मार्केटिंग कंपनियां अपने नुकसान को पूरा करने में जुटी हैं। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया लगातार कमजोर हो रहा है। रुपए का भाव 67 के पार निकल चुका है। ये रुपए का 15 महीने के निचला स्तर है। इसकी वजह से तेल कंपनियों को भारी नुकसान हो रहा है। दरअसल, रुपए में कमजोरी से कंपनियों को कच्चा तेल महंगा मिल रहा है। यही वजह है कि घरेलू मार्केट में भी पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं।

एक महीने में डेढ़ रुपए महंगा हुआ पेट्रोल

पिछले एक महीने के ट्रेंड की बात करें तो पेट्रोल करीब 1.5 रुपए और डीजल पर करीब 2 रुपए बढ़ाए हैं।अप्रैल की शुरुआत में पेट्रोल के दाम 73.56 रुपए के पास थे। 15 मई तक यह दाम 75 रुपए तक पहुंच गए हैं। वहीं, डीजल की कीमतें पेट्रोल के मुकाबले ज्यादा तेजी से बढ़ी हैं। अप्रैल की शुरुआत में डीजल 64.96 के करीब था। 15 मई तक डीजल के दाम 66.35 पर पहुंच गए हैं यानी इसमें करीब दो रुपए का इजाफा हुआ है।

डीजल की नई कीमतें

डीजल की बात करें दिल्ली में इसका दाम 66.36 रुपए हो गया है। अन्य शहरों की बात करें तो मंगलवार को कोलकाता में डीजल का भाव 68.90 रुपए, मुंबई में 70.66 रुपए और चेन्नई में 70.02 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

 

Similar News
यूएई : पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दुबई में मुबदाला पेट्रोलियम के सीईओ से की मुलाकात

यूएई : पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दुबई में मुबदाला पेट्रोलियम के सीईओ से की मुलाकात

कर्नाटक में वोटिंग होते ही बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितना हुआ महंगा

कर्नाटक में वोटिंग होते ही बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितना हुआ महंगा

37 साल से बिना लीज नवीनीकरण के चल रहा था पेट्रोल पंप, लाइसेंस निरस्त

37 साल से बिना लीज नवीनीकरण के चल रहा था पेट्रोल पंप, लाइसेंस निरस्त

भारत से लेकर अमेरिका तक शेयर बाजार खस्ताहाल 

भारत से लेकर अमेरिका तक शेयर बाजार खस्ताहाल 

शेयर बाजार में आया उछाल, निफ्टी ने पहली बार पार किया 10700 का स्तर

शेयर बाजार में आया उछाल, निफ्टी ने पहली बार पार किया 10700 का स्तर

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

loading...