comScore

वर्षा के लिए कीर्तन कर रहे ग्रामीणों पर गिरी गाज, एक की मौत, 17  घायल

वर्षा के लिए कीर्तन कर रहे ग्रामीणों पर गिरी गाज, एक की मौत, 17  घायल

डिजिटल डेस्क,मंडला। एक पखवाड़े से बारिश नहीं होने से खेत में लगा रोपा सूखने की कगार पर होने के कारण किसान चिंतित है। भगवान इन्द्रदेव को मनाने के साथ अच्छी बारिश की कामना को लेकर निवास थाना क्षेत्र गांव जगांलिया के खेरमाई मंदिर परिसर में लगे पेड़ और मंच पर बैठ कर रामायण पाठ,कीर्तन कर रहे ग्रामीणों पर दोपहर के समय गाज गिर गई।  प्राकृति के इस कहर से एक ग्रामीण की मौके पर मौत हो गई 17 अन्य लोग झुलस गए है, जिन्हे उपचार के लिए स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया गया है।

बताया गया है कि मानसून के इस सीजन में एक ही बार  लगातार दो दिन से अधिक बारिश हुई, यहां किसानो ने खेतो में रोपा बो दिया लेकिन इसके बाद  एक पखवाड़े से बारिश नहीं हुई। तेज धूप के कारण लगाया गया रोपा प्रभावित होने के साथ खेत सूख गए। इससे किसान की परेशानी बढ़ गई। निवास क्षेत्र के जंगलिया गांव के ग्रामीणों ने सावन माह में मानसून की बेरूखी को लेकर स्थानीय खैरमाई मंदिर में रामायण पाठ का आयोजन कियाथा। यहां नीचे बने मंच पर बैठकर दो दर्जन से अधिक ग्रामीण रामायण के साथ भजन कीर्तन कर रहे थे कि दोपहर के समय मौसम बदला। काले बादल भी छा गए। तेज हवाओ के साथ बारिश की बूंदे भी शुरू हो गई इसी बीच आसमान से सीधे पेड़ पर बिजली जा समाई। इसकी चपेट पर आने से ओमप्रकाश बरकड़े पिता नवल सिंह 30 वर्ष जंगलिया निवासी की मौके पर मौत हो गई और करीब सत्रह ग्रामीण झुलस गए है। घटना के बाद गांव में अफरा तफरी का माहौल बन गया है। सूचना ग्रामीणों ने 108 एबंलेस को  दी। घायलों को निवास सामुदायिक केंद्र में पहुंचाया गया है। 
 

बिजली से मासूम भी झुलसे

घटना से गांव के जगत सिंह पिता पंचम सिंह 30 वर्ष, लोक सिंह पिता बाबूलाल 45 वर्ष, राम सिंह पिता बीरू सिंह 60 वर्ष, भागचंद पिता जमुना सिंह 37 वर्ष, राम कुमार पिता चेतू सिंह  45 वर्ष, चमन परस्ते पिता बुद्ध सिंह परस्ते 32वर्ष, गोपाल सिंह पिता जय सिंह टेकाम  66वर्ष,बिहारी पिता दूसरा लाल 40 वर्ष, उधन सिंह पिता चरण सिंह23वर्ष,लोटन सिंह पिता जयसिंह 60, राजेंद्र सिंह पिता लक्ष्मण सिंह 36 वर्ष, बिशन सिंह पिता गेंदा लाल 32 साल, कुमारी अमृता पिता जीतू 7 वर्ष, समीर कुमार पिता कमलेश 4 वर्ष सहित 17 लोग घायल हुए है। सभी का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र निवास चल रहा है।

अच्छी बारिश के लिए आयोजन

सावन के माह में रामायण पाठ होता है लेकिन यहां के ग्रामीण बारिश नहीं होने के कारण अत्यधिक चिंतित थे। गांव कोटवार मुन्ना दास ने बताया है कि क्षेत्र में बारिशनहीं होने के कारण किसानो के खेत सूख रहे थे। सभी ने राय कर भगवान इन्द्र को मनाने के साथ अच्छी बारिश होने की कामना से रामायण पाठ,भजन, कीर्तन का आयोजन कर रहे थे, और बारिश होने तक चलता। इसके बाद सभी ग्रामीणों के सहयोग से मंदिर में भंडारा प्रसाद के साथ समापन करते, लेकिन बारिश हुई पर गांव खुशी की जगह महौल गमगीन हो गया है।

इनका कहना है-

गांव में ग्रामीण पेड़ के नीचे मंच भजन कीर्तन कर रहे थे इस दौरान आकाशीय बिजली गिरने के एक मौत हो गई और डेढ़ दर्जन से अधिक घायल हो गए। जिन्हे स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया गया। जांच प्रतिवदेन बाद मुआवजा दिया जा रहा है। एआर मरकाम,तहसील दार निवास

कमेंट करें
sS5Fk