comScore

मैच से पहले पाक की खीज, वर्ल्ड कप एड में उड़ाया विंग कमांडर अभिनंदन का मजाक

मैच से पहले पाक की खीज, वर्ल्ड कप एड में उड़ाया विंग कमांडर अभिनंदन का मजाक

हाईलाइट

  • विश्व कप के सबसे बड़े मुकाबलों में से एक भारत और पाकिस्तान के बीच मैच खेला जाएगा
  • मैच के लाइव कवरेज से जुड़े पाक के जैज टीवी चैनल के विज्ञापन ने विवाद खड़ा कर दिया है
  • एड के जरिए पाकिस्तानी चैनल ने अभिनंदन का मजाक बनाने की कोशिश की है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड क्रिकेट ग्राउंड में रविवार को आईसीसी विश्व कप -2019 के सबसे बड़े मुकाबलों में से एक भारत और पाकिस्तान के बीच मैच खेला जाएगा। इससे पहले मैच के लाइव कवरेज से जुड़े पाकिस्तान के जैज टीवी चैनल के विज्ञापन ने विवाद खड़ा कर दिया है। यह विज्ञापन पाकिस्तान में भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन वर्थमान की कैद को दर्शाता है। एड के जरिए पाकिस्तानी चैनल ने अभिनंदन का मजाक बनाने की कोशिश की है। बता दें कि वर्ल्ड कप के इतिहास में पाकिस्तान आज तक भारत को हरा नहीं पाया है।

यह विज्ञापन 33 सेकेंड का है जिसमें भारतीय क्रिकेट टीम की जर्सी में अभिनंदन वर्थमान के समान मूंछों वाले एक व्यक्ति को चाय के प्याले के साथ दिखाया गया है। उस व्यक्ति ने उसी तरह से चाय का प्याला पकड़ा है जैसे अभिनंदन ने पाकिस्तान की कैद में रहते हुए चाय का प्याला पकड़ा था। पाकिस्तानी आर्मी ने इसका एक वीडियो जारी किया था। उस समय अभिनंदन से जो सवाल पूछे गए थे और उन्होंने जिस तरह के जवाब दिए थे ठीक उसी तरह इस एड में भी दिखाने की कोशिश की गई है।

विज्ञापन में जब अभिनंदन के डुप्लीकेट से पूछा जाता है कि टॉस जीत गए तो क्या करोगे? जवाब मिलता है 'माफ कीजिए, मैं आपको यह नहीं बता सकता।' फिर प्लेइंग 11 के सवाल पर भी अभिनंदन का डुप्लीकेट यही जवाब देता है। इसके बाद चाय कैसी है ये पूछा जाता है? अभिनंदन का डुप्लीकेट ठीक उसी तरह जवाब देता है जैसे विंग कमांडर ने पाकिस्तानी आर्मी के सवाल के दौरान दिया था। डुप्लीकेट कहता है चाय शानदार है और उसे जाने के लिए कहा जाता है। जैसे ही वह जाने लगता है सवाल पूछने वाला शख्स उसे पकड़ता है और कहता है, 'एक सेकेंड रूको, कप कहां लेकर जा रहे हो?'

इस विज्ञापन के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों की कड़ी प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। लोग इस विज्ञापन को असंवेदनशील और विंग कमांडर की नस्लीय रूपरेखा पर सवाल उठाने वाला बता रहे हैं। यह पहला उदाहरण नहीं है जब अभिनंदन की कैद को दर्शाता कोई विज्ञापन सामने आया हो। इससे पहले मार्च 2019 में, एक चाय ब्रांड के बनाया गया स्पूफ कमर्शियल भी सोशल मीडिया पर सर्कुलेट हो रहा था।

कमेंट करें
5LwGB