comScore

US : कर्ज के बोझ तले डूबा पाकिस्तान, पैसे बचाने राजदूत के घर रुके इमरान


हाईलाइट

  • द्विपक्षीय संबंध सुधारने की कोशिश करेंगे इमरान
  • पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने किया इमरान का स्वागत
  • अमेरिका में रह रहे पाकिस्तानी नागिरक भी पहुंचे एयरपोर्ट

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान तीन दिवसीय दौरे पर अमेरिका पहुंचे हैं। इमरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलकर द्विपक्षीय संबंधों को सुधारने की कोशिश करेंगे। बता दें कि पाकिस्तान की सैन्य सहायता रोकने, सार्वजनिक तौर पर आलोचना करने और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई तेज करने के लिए कहने के बाद  दोनों देशों के रिश्तों में दरार पैदा हो गई थी। 

इमरान खान कतर एयरवेज की सामान्य फ्लाइट से अमेरिका पहुंचे हैं। वह अमेरिका में पाकिस्तानी राजदूत अजद मजीद खान के आधिकारिक निवास पर ठहरे हैं। इस घटना को पाकिस्तान की खराब आर्थिक स्थिति से जोड़कर देखा जा रहा है। एयरपोर्ट पर इमरान खान का स्वागत करने के लिए पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी मौजूद थे। इसके अलावा अमेरिका में रह  रहे काफी सारे पाकिस्तानी भी एयरपोर्ट पहुंचे थे।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान 22 जुलाई को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करेंगे। अमेरिका प्रशासन इमरान पर पाकिस्तान की धरती पर सक्रिय आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने और तालिबान के साथ शांति वार्ता में भूमिका अदा करने का दबाव बना सकता है।

इमरान से पहले पूर्व पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ अक्टूबर 2015 में अमेरिका के दौरे पर गए थे। इमरान खान वॉशिंगटन डीसी में ट्रंप के अलावा विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास और से भी मुलाकात करेंगे। इसके अलावा इमरान अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ से भी मंगलवार को मिलेंगे।

ट्रंप और इमरान खान की मुलाकात ओवल ऑफिस में होगी, जिसके बाद यूएस प्रेसिडेंट पाकिस्तान से आए प्रतिनिधिमंडल को दोपहर के भोजन  के लिए व्हाइट हाउस बुलाएंगे। इसके अलावा कैपिटल हिल में इमरान सांसदों से मुलाकात करेंगे। ट्रंप के कार्यकाल में पाकिस्तान और अमेरिका के रिश्तों में कड़वाहट बढ़ी है। ट्रंप ने सार्वजनिक तौर पर कहा था कि पाकिस्तान से उन्हें झूठ और धोखे के अलावा कुछ नहीं मिला है।

कमेंट करें
7nqav