comScore

जामुनपानी में तेंदुए की दहशत, कर रहा मवेशियों का शिकार

March 26th, 2019 22:17 IST
जामुनपानी में तेंदुए की दहशत, कर रहा मवेशियों का शिकार

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। पूर्व हर्रई के जंगल से लगे आधा दर्जन गांवों के लोग तेंदुए की दहशत के साये में जीने को विवश हैं। जंगल से निकल कर गांव की ओर आए तेंदुए के जोड़े ने कई मवेशियों को अपना शिकार बनाया है।  

बताया जाता है कि पूर्व हर्रई के जंगल से लगे ग्रामीण इलाकों के आसपास पिछले एक माह से वयस्क तेंदुए के जोड़े का मूवमेंट बना हुआ है। तेंदुए का जोड़ा बीते तीन दिनों में जामुनपानी के जंगल में दो मवेशियों का शिकार कर चुका है।

तस्वीर हुई कैमरों कैद
बताया जाता है कि फारेस्ट की टीम द्वारा लगाए गए कैमरे में दो तेंदुओं की तस्वीर कैद हुई है। तेंदुए के जोड़े ने जामुनपानी के जंगल में 22 मार्च को कक्ष क्रमांक 1067 में विनोद पिता दानसा और 24 मार्च को सीताराम पिता झीना के मवेशी का शिकार किया। वन अधिकारियों की माने तो तेंदुए के जोड़े ने पिछले एक माह में आठ मवेशियों का शिकार कर चुका है। बताया जा रहा है कि जामुनपानी, कुंडाली, छिंदा, मुड़िया और कालीथुनी के आसपास वन्यजीवों का मूवमेंट बना हुआ है। बीती 28 फरवरी से लगातार वन्यजीवों का इस क्षेत्र में चहलकदमी बनी हुई है। फारेस्ट की टीम ने इस क्षेत्र में गश्ती बढ़ाने के साथ वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए टीम गठित की है जो लगातार मूवमेंट पर नजर बनाए हुए है।

ग्रामीण इलाकों में कराई मुनादी
पूर्व हर्रई के जामुनपानी, कुंडाली, छिंदा, मुडिय़ा और कालीथुनी समेत आसपास के ग्रामीण इलाकों में फारेस्ट की टीम ने मुनादी कराकर लोगों को सतर्क रहने अपील की है। यहां के ग्रामीणों से अपील की जा रही है कि वे अपने मवेशियों को जंगल में ना जाने दें और वे खेतों में अकेले न जाएं।

ग्रामीणों में दहशत का माहौल
लगातार हो रहे मवेशियों के शिकार से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है। ग्रामीण शाम होते ही अपने घरों में बैठ जाते हैं और दरवाजे खिड़कियां  बंद कर लेते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि वह अपने बच्चों को भी बाहर नहीं जाने दे रहे हैं। इसके साथ ही खेत में जाने  से भी डर रहे हैं।

कमेंट करें
5lRPF