comScore
Dainik Bhaskar Hindi

पटना के बीएन कॉलेज हॉस्टल में बार बालाओं का डर्टी डांस, VC ने दिए जांच आदेश

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 06th, 2018 15:57 IST

11.3k
0
0

डिजिटल डेस्क, पटना। बसंत पंचमी के दिन विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा की जाती है, पढ़ाई करने वाले हर छात्र के लिए यह दिन खास होता है। कई स्कूलों और कॉलेजों में इस दिन सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होते हैं, लेकिन पटना में कुछ और ही नजारा देखने को मिला। पटना यूनिवर्सिटी के बीएन कॉलेज में भी सरस्वती पूजा की गई। दिन भर छात्र-छात्राओं ने मां शारदे की पूजा की, लेकिन देर रात कॉलेज के हॉस्टल में जागरण के नाम पर जो हुआ वह शर्मसार कर देने वाला था। कॉलेज हॉस्टल में सरस्वती पूजा समिति का बैनर लगा हुआ था। 

अश्लील डांस के साथ स्टेज पर हुई फायरिंग

जानकारी के अनुसार, बीएन कॉलेज के हॉस्टल में छात्रों ने सबसे पहले तो कॉलेज प्रशासन से जागरण कराने की अनुमति मांगी। इसके बाद शुरू हुआ नंगा नाच, भक्ति कार्यक्रम के नाम पर छात्रों ने तमंचे की नोक पर डिस्को कराया। रात भर बार बालाओं ने अश्लील डांस किया और छात्र ठुमके लगाते रहे। इस कार्यक्रम में डांसरों ने भोजपुरी के गानों पर अश्लील डांस किया। इतना ही नहीं बार-बालाओं के अश्लील डांस के वक्त एक छात्र बाकायदा स्टेज पर चढ़कर फायरिंग भी करता है। 

वीसी ने दिए जांच के आदेश

इन छात्रों ने अश्लीलता की हदें पार करते हुए बार बलाओं के साथ नाच गाना किया और नोट भी उड़ाए। इस मामले में पटना विश्वविद्यालय के कुलपति रास बिहारी सिंह ने जांच के आदेश दे दिए हैं। कुलपति ने मामले में जल्द ही जांच कराने और दोषियों के विरूद्ध कार्रवाई करने की बात कही। कॉलेज हॉस्टल में हुई इस तरह की शर्मनाक हरकत से सवाल खड़े होने लगे हैं कि आखिर इन छात्रों को किसने इस तरह के आयोजन करने की इजाजत दे दी। पटना एसएसपी ऑफिस से आधा किलोमीटर दूर कॉलेज के हॉस्टल में छात्रों ने देर रात सरस्वती पूजा के मौके पर बार-बालाओं को नचाया गया और प्रशासन चैन की नींद कैसे सोता रहा। इस पूरे मामले पर प्रशासन कुछ भी बोलने से बच रहा है। 

छात्रों पर प्राथमिकी दर्ज, 36 घंटे में मांगा जवाब 

बीएन कॉलेज प्रशासन ने पूजा समिति के छात्रों के खिलाफ जो प्राथमिकी दर्ज करायी है, उसमें बीए के गजेंद्र कुमार व सन्नी कुमार, बीएससी के वेंकेटेश कुमार, बायोटेक के रॉबिंसन समेत पूजा समिति के अन्य सदस्य व संरक्षक छात्रों को आरोपित बनाया गया है। कॉलेज प्रशासन हॉस्टल में असामाजिक तत्वों का अवैध प्रवेश कराने, असामाजिक गतिविधि आदि के संबंध में भी कार्रवाई का निर्देश दिया है। 
 

जांच के लिए बनाई गई 5 लोगों की कमेटी 

इस मामले को लेकर पांच शिक्षकों की एक कमेटी बनायी गयी है। इसमें अर्थशास्त्र की विभागाध्यक्ष डॉ राजलक्ष्मी, गणित के विभागाध्यक्ष डॉ जाके पलई, भूगोल के विभागाध्यक्ष डॉ रतन कुमार, डॉ एसबी राय, डॉ मुरारी शरण शामिल हैं। तीन दिनों के भीतर कमेटी को जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है। पटना के डीएम कुमार रवि ने बीएन कॉलेज के हॉस्टल में अश्लील डांस की जांच का आदेश दिया है।  

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download