comScore
Dainik Bhaskar Hindi

महंगी हो सकती है लोअर बर्थ, फेस्टिव सीजन में भी बढ़ेगा किराया

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 18th, 2018 10:28 IST

4k
0
0

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। ट्रेन में सफर के दौरान अगर आप लोअर बर्थ चुनते हैं, तो इसके लिए आपको ज्यादा कीमत चुकानी पड़ सकती है। दरअसल, रेलवे किराए को लेकर बनी फेयर रिव्यू कमेटी ने सिफारिश की है कि अगर कोई पैसेंजर अपनी पसंद से लोअर बर्थ चुनता है, तो उससे ज्यादा किराया वसूला जाना चाहिए। इसके साथ ही फेस्टिव सीजन के दौरान भी सफर करने वाले पैसेंजर्स से ज्यादा किराया लिए जाने की सिफारिश कमेटी ने की है। अगर इन सिफारिशों को रेलवे बोर्ड मान लेता है, तो आने वाले समय में इसका असर आपकी जेब पर पड़ सकता है।


डायनैमिक प्राइसिंग मॉडल फॉलो किया जाए

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रेलवे किराए को लेकर फेयर रिव्यू कमेटी बनाई गई थी। इस रिपोर्ट में कमेटी ने कहा है एयरलाइंस और होटल्स की तरह डायनैमिक प्राइसिंग मॉडल को फॉलो किया जाना चाहिए। इसके अलावा अगर कोई पैसेंजर अपनी पसंद की सीट चुनता है, तो उससे ज्यादा किराया लिया जाना चाहिए। इसके अलावा कमेटी ने बिजी रुट्स पर भी ट्रेनों का किराया बढ़ाने की सिफारिश की है। इसके साथ ही फेस्टिव सीजन के दौरान किराया बढ़ा जाने और बाकी महिनों में किराए को कम रखे जाने की सिफारिश भी फेयर रिव्यू कमेटी की तरफ से की गई है।

Image result for lower berth train



इन ट्रेनों में कम हो सकता है किराया

इसके साथ ही कमेटी ने असुविधाजनक समय पर अपने डेस्टिनेशन पर पहुंचने वाली ट्रेनों के पैसेंजर्स को किराए पर रियायत देने की बात भी कही है। इसका मतलब अगर कोई ट्रेन रात 12 बजे से सुबह 4 बजे और दोपहर 1 बजे से शाम 5 बजे तक पहुंचती है, तो इसमें सफर करने वाले पैसेंजर्स को किराए में छूट दी जा सकती है।

50% तक बढ़ जाएगा किराया

फेयर रिव्यू कमेटी ने फ्लैक्सी फेयर सिस्टम में बदलाव करने का सुझाव भी दिया है। इस सिस्टम में प्रीमियम ट्रेनों में किराया 50% तक बढ़ जाता है। दरअसल, फ्लैक्सी फेयर सिस्टम में किराया हर 10% सीटों बुकिंग के बाद 10% बढ़ जाता है और ये बढ़ोतरी 50% तक होती है। बताया ये भी जा रहा है कि कमेटी ने रातभर में यात्रा पूरी करने वाली और पैंट्री कार सर्विस वाली ट्रेनों में प्रीमियम चार्ज का भी सुझाव दिया है।

कमेटी में कौन-कौन था शामिल? 

रेलवे की फेयर रिव्यू कमेटी में रेलवे बोर्ड के कई बड़े अधिकारी शामिल हैं। इसके अलावा नीति आयोग के एडवाइजर रविंद्र गोयल, एयर इंडिया की एक्जिक्यूटिव डायरेक्टर मीनाक्षी मलिक, प्रोफेसर एस श्रीराम और दिल्ली के मेरीडियन होटल के अधिकारी भी इस कमेटी में शामिल हैं। बताया जा रहा है कि कमेटी ने अपनी इस रिपोर्ट को सोमवार को रेलवे बोर्ड के पास भेज दिया है। 
 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download