comScore

सैलरी न मिलने से बीमार हुए जेट एयरवेज के पायलट, कैंसिल करनी पड़ीं 14 फ्लाइट

December 03rd, 2018 12:43 IST
सैलरी न मिलने से बीमार हुए जेट एयरवेज के पायलट, कैंसिल करनी पड़ीं 14 फ्लाइट

हाईलाइट

  • एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज की 14 उड़ानें रद्द हो गई है।
  • सैलरी न मिलने से बनाया बीमारी का बहाना
  • अगस्त महीने से कर्मचारियों को नहीं मिली है सैलरी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज की 14 उड़ानें रद्द हो गई हैं। इसके पीछे की वजह कर्मचारियों को लंबे समय से सैलरी नहीं मिलना बताया जा रहा है। कर्मचारियों ने बीमारी का बहाना बनाकर छुट्टी मार ली, जिसकी वजह से यात्रियों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जानकारी के मुताबिक जेट एयरवेज ने अपने कर्मचारियों को अगस्त महीने से सैलरी नहीं दी। कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें सिर्फ सितंबर की आधी सैलरी मिली। 

बता दें कि इन दिनों बुरे दौरे से गुजर रही एयर सर्विस जेट एयरवेज कर्मचारियों से बातचीत कर स्थिति को सुधारने का प्रयास कर रही है। एयरवेज के पायलट सैलरी नहीं मिलने का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब तक हमारी बकाया सैलरी नहीं मिल जाती तब तक हमारा काम करना मुश्किल है। सभी पायलटों ने एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल को पत्र के माध्यम से कहा है कि समय पर सैलरी नहीं मिलने से उनकी आर्थिक स्थिति पर प्रभाव पड़ा है। जिसके चलते उनका नियमित रूप से काम करना मुश्किल हो गया है। 

उड़ान रद्द होने से नाराज यात्रियों को SMS के माध्यम से प्लाइट्स रद्द होने की जानकारी दी जा रही है। यात्रियों को किसी तरह की असुविधा न हो इसके लिए दूसरी फ्लाइट्स की व्यवस्था की जा रही है। कई मामलों में यात्रियों को मुआवजा भी देना पड़ रहा है। हांलाकि जेट एयरवेज के अधिकारियों को कहना है कि कंपनी को कर्मचारियों का पूरा सहयोग मिल रहा है। सभी पायलट वापस काम पर लौट आएं इसके लिए कंपनी की ओर से लगातार कर्मचारियों से बातचीत की जा रही है। ताकि सैलरी सहित अन्य मुद्दों पर चल रहे है विवादों को सुझलाया जा सके। हालांकि पायलट इस मुद्दे पर नेशनल एविएटर्स गिल्ड (एनएजी) के रवैये को लेकर भी नाराज बताए जा रहे हैं। एनएजी जेट एयरवेज के पायलट का संगठन है, जो 1000 पायलटों का प्रतिनिधित्व करता है।

Loading...
कमेंट करें
peXQk
Loading...