comScore

राहुल की अमर्यादित टिप्पणी, कहा- मोदी ने गुरु आडवाणी को जूता मार कर नीचे उतार दिया

राहुल की अमर्यादित टिप्पणी, कहा- मोदी ने गुरु आडवाणी को जूता मार कर नीचे उतार दिया

हाईलाइट

  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और पीएम मोदी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की है।
  • राहुल गांधी ने कहा, पीएम मोदी ने अपने गुरु आडवाणी को स्टेज से जूता मारकर नीचे उतार दिया।
  • महाराष्ट्र के चंद्रपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने ये बात कही है।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और पीएम मोदी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की है। चुनावी सरगर्मी में राहुल गांधी ने भाषा की मर्यादाओं की सीमाओं को लांघते हुए कहा कि पीएम मोदी ने अपने गुरू आडवाणी को स्टेज से जूता मारकर नीचे उतार दिया। महाराष्ट्र के चंद्रपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने ये बात कही है।

राहुल गांधी ने कहा, 'हिंदू धर्म में सबसे जरूरी गुरू होता है। मोदी जी के गुरू आडवाणी है। लेकिन मदी जी अपने गुरू के सामने कभी हाथ तक नहीं जोड़ते। स्टेज से उठाके आडवाणी जी को नीचे फेंक दिया। जूता मार के नीचे उतार दिया.. और मोदी जी हिंदू धर्म की बात करते हैं।' राहुल गांधी ने पूछा कि एसा कहा लिखा है कि हिंदू धर्म में ऐसा कहा लिखा है कि हिंसा करनी चाहिए.. कही नहीं लिखा है।

इसके अलावा राहुल गांधी ने रैली में कहा, मोदी जी ने ₹15 लाख का वादा किया, वो झूठ निकला। वहीं से मुझे विचार आया और विचार-विमर्श के बाद हमने तय किया कि हम देश के 20% सबसे गरीब परिवारों को ₹72,000 सालाना दे सकते हैं। हम ये करके दिखाएंगे। यही "न्याय" की अवधारणा है। जब पुलवामा का हमला हुआ तो, पूरा देश उससे चिंतित और दुखी नजर आ रहा था। इधर, मोदी ने चुपके से अडानी को 6 एयरपोर्ट दे दिए।

राहुल गांधी ने कहा, पांच साल में हमने देखा, मोदी जी कभी किसी मित्र को 6 एयरपोर्ट दे रहे हैं, किसी को किसान के बीमा का पैसा दे रहे हैं। तो, हमने भी देश के 20% सबसे गरीब परिवारों को सालाना ₹72,000 देने का फैसला किया है। यह संभव होगा- "न्याय" योजना से। "न्याय" योजना के बारे में हमने देश-दुनिया के बेहतरीन अर्थशास्त्रियों से सलाह ली है और यह संभव है। इस "न्याय" योजना का पैसा परिवार की महिला के खाते में जाएगा।

राहुल गांधी ने कहा, मेरा मानना है- एक हिंदुस्तान होना चाहिए, जिसमें किसानों, युवाओं, छोटे उद्योगों के लिए जगह हो। मोदी जी अमीरों और गरीबों का अलग-अलग हिंदुस्तान चाहते हैं। हम ये नहीं होने देंगे। इसलिए हम "न्याय" योजना लेकर आए हैं 

कमेंट करें
OauYk