comScore
Dainik Bhaskar Hindi

असम में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 06th, 2018 15:42 IST

15.6k
0
0

डिजिटल डेस्क, गुवाहाटी। असम के गुवाहाटी में शनिवार से एडवांटेज असम-ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2018 की शुरुआत हो गई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस समिट का उद्घाटन किया।  पीएम मोदी के साथ भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग तोबगे, असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, कई केंद्रीय मंत्री और उद्योगपति मौजूद हैं। इस समिट का मकसद असम के भू-रणनीतिक अवसरों और राज्य सरकार के नीतिगत सुधारों से विभिन्न क्षेत्रों की प्रतिस्पर्धा को निवेशकों के सामने रखना है। असम में होने वाला ये सम्मेलन राज्य का पहला वैश्विक निवेशक सम्मेलन  है। 

16 देशों के 4500 डेलिगेट्स का पंजीकरण

जानकारी के मुताबिक ‘एडवांटेज असम-ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2018’ के दौरान राज्य में निवेश के माहौल और कारोबार की सुविधा का ब्योरा दिया जाएगा। 16 देशों के साढे़ चार हजार डेलीगेटों ने समिट के लिए पंजीकरण कराया है। भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग तोब्गे भी यहां पहुंच गए हैं। समिट में राज्य सरकार निवेशकों को राज्य की अनुकूल प्राकृतिक व संरचनात्मक व्यवस्था से परिचित कराने का प्रयास करेगी। इसके साथ ही इस आयोजन में राज्य में निर्माण की अनुकूलता के अवसरों को प्रदर्शित किया जाएगा। खासतौर पर दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया की आर्थिक उन्नति के परिप्रेक्ष्य में असम से निर्याताधारित उत्पादन पर इस सम्मेलन में फोकस रहेगा।

ये कहा असम के मुख्यमंत्री ने

असम के मुख्यमंत्री सोनोवाल ने कहा कि तीन और चार फरवरी को होने वाले इस सम्मेलन में असम में उपलब्ध निर्यात उन्मुख विनिर्माण अवसरों को प्रदर्शित किया जाएगा। साथ ही आसियान और दक्षिण एशिया की उभरती अर्थव्यवस्थाओं को दी जाने वाली विशेष सेवाओं के बारे में भी बताया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पूर्वोत्तर के विकास पर प्रमुख तौर पर ध्यान दे रहे हैं और इस क्षेत्र के विकास के लिए उन्होंने कई कदम उठाए हैं।

इनकी रहेगी विशेष सहभागिता

असम में आयोजित निवेशकों के इस शिखर सम्मेलन में भारत सरकार के ऊर्जा, कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण, सूचना प्रौद्योगिकी, नदी परिवहन और पोर्ट उपनगर, प्लास्टिक और पेट्रोकेमिकल्स, फार्मास्यूटिकल्स और चिकित्सा उपकरण, हथकरघा, वस्त्र और हस्तशिल्प, पर्यटन, आतिथ्य और कल्याण, नागरिक उड्डयन और पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय की विशेष सहभागिता कर रहे हैं। 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें

app-download