comScore

अपनी सरकार के बजट पर पीएम मोदी ने क्या कहा?

September 25th, 2018 15:38 IST

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को बजट 2018-19 पेश किया है। अपनी ही सरकार के इस बजट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बजट की तारीफ करते हुए कहा है कि ये बजट 125 करोड़ देशवासियों को गति देना वाला, किसानों और ग़रीबों को फ़ायदा देने वाला है। इस बजट से ग्रामीण इलाकों का भी काफी विकास होगा।

पीएम मोदी ने अपने अभिभाषण में देशवासियों से कहा है कि सरकार ने किसानों और पशुपालकों के फ़ायदे के लिए गोवर्धन योजना लागू की है। यह योजना ग्रामीण स्तर पर गरीब किसानों और पशुपालकों को आर्थिक सहायता देते हुए गति प्रदान करेगी। वहीं सरकार ने आयुष्मान योजना भी लागू की है, जो गंभीर बीमारी में गरीबों को सहायता प्रदान करेगी। साथ ही लगभग 50 करोड़ नागरिकों को हेल्थ बीमा की सुविधा भी है।

किसानों को मिलेगा लाभ
मोदी ने कहा कि गांव और कृषि क्षेत्र के लगभग साढ़े 14 लाख करोड़ रुपये का रिकॉर्ड आवंटन इस बजट में किया गया है। किसानों को इस फ़ैसले का पूरा लाभ मिल सके, इसलिए केंद्र राज्य सरकार के साथ बात करके काम करेगी।


पीएम मोदी के भाषण की अन्य प्रमुख बातें...
- रेल - मेट्रो, हाईवे - आईवे, पोर्ट - एयर पोर्ट, पावर ग्रिड- गैस ग्रिड, भारतमाला- सागरमाला, डिजिटल इंडिया से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास पर बजट में काफी बल दिया गया है। इनके लिए लगभग 6 लाख करोड़ रुपए की राशि का आबंटन किया गया है।

- स्वास्थ्य बीमा के 50 हजार रुपए तक के प्रीमियम पर इनकम टैक्स से छूट मिलेगी। वैसे ही गंभीर बीमारियों के इलाज पर एक लाख रुपए तक के खर्च पर इनकम टैक्स से राहत दी गई है।

- हमेशा से गरीब के जीवन की एक बड़ी चिंता रही है बीमारी का इलाज। बजट में प्रस्तुत की गई नई योजना ‘आयुष्मान भारत’ गरीबों को इस बड़ी चिंता से मुक्त करेगी।

- प्रधानमंत्री 'वय वंदना' योजना के तहत अब सीनियर सीटिजन 15 लाख रुपए तक की राशि पर कम से कम 8 प्रतिशत का ब्याज प्राप्त करेंगे। बैंकों और पोस्ट ऑफिस में जमा किए गए उनके धन पर 50 हजार तक के ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगेगा।

- देशभर में 24 नए मेडिकल कॉलेज की स्थापना से लोगों को इलाज में सुविधा तो बढ़ेगी ही युवाओं को मेडिकल की पढ़ाई में भी आसानी होगी। हमारा प्रयास है कि देश में तीन संसदीय क्षेत्रों में कम से कम एक मेडिकल कॉलेज अवश्य हो।

- प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत अब गांवों को ग्रामीण हाट, उच्च शिक्षा केंद्र और अस्पतालों से जोड़ने का काम भी किया जाएगा। इस वजह से गांव के लोगों का जीवन और आसान होगा।

- आने वाले दिनों में ये केंद्र, ग्रामीण इलाकों में आर्थिक गतिविधि, रोजगार एवं किसानों की आय बढ़ाने के लिए, नए ऊर्जा केंद्र बनेंगे।

- देश में अलग-अलग जिलों में पैदा होने वाले कृषि उत्पादों के लिए स्टोरेज, प्रोसेसिंग, मार्केटिंग के लिए योजना विकसित करने का कदम अत्यंत सराहनीय है.

वित्‍त मंत्री अरुण जेटली के पिटारे की 10 बड़ी बातें जानने के लिए देखें ये वीडियो... अन्य बड़ी खबरों के लिए देखें... Bhaskarhindi.com

Loading...
कमेंट करें
yF9dc
Loading...
loading...