comScore
Dainik Bhaskar Hindi

नोएडा डबल मर्डर मिस्ट्री: मोबाइल गेम ने बनाया बेटे को कातिल

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 10th, 2017 00:15 IST

2.3k
0
0

डिजिटल डेस्क, ग्रेटर नोएडा। दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में हुए सनसनीखेज डबल मर्डर की गुत्थी सुलझती हुई दिखाई दे रही है। पुलिस ने घर से फरार नाबालिग बेटे को वाराणसी से पकड़ा है। पुलिस पूछताछ में नाबालिग ने अपनी मां और बहन की हत्या करना कबूल किया है। खबरों की मानें तो कत्ल की वजह क्राइम फाइटर गेम को बताया जा रहा है। पुलिस ने नाबालिग के पास से उसका मोबाइल भी बरामद कर लिया है।

सीसीटीवी फुटेज से मिला सुराग


ग्रेटर नोएडा तृतीय के पुलिस उपाधीक्षक अनित कुमार के मुताबिक 4 दिसंबर को गौर सिटी 2 में हुई इस वारदात के बाद से ही पुलिस नाबालिग बेटे की तलाश कर रही थी। पुलिस को फ्लैट में लगे सीसीटीवी फुटेज में नाबालिग को कपड़े बदलते हुए घर से जाते देखा पाया था। वहीं फ्लैट के बाथरूम से खून में सने कपड़े भी पुलिस ने बरामद किए थे। बताया जा रहा है कि नाबालिग घर से डेढ़ लाख रुपए लेकर फरार हुआ था।

मोबाइल लोकेशन से पकड़ाया नाबालिग


शुक्रवार को सर्विलांस टीम को नाबालिग के मोबाइल की लोकेशन मिली थी। दरअसल नाबालिग ने फोन से अपने पिता के मोबाइल पर एक मिस कॉल किया था। इसके तुरंत बाद टीम को बनारस के लिए रवाना किया गया। बनारस से इस नाबालिग को हिरासत में ले लिया गया है। ये भी बताया जा रहा है कि नाबालिग मानसिक तनाव में है और उसने क्राइम फाइटर गेम के चलते ही इस हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। नोएडा पुलिस अब नाबालिग से परिजनों के सामने बैठाकर आगे की पूछताछ करेगी।

ये है मामला


गौरतलब है कि बीते मंगलवार की रात ग्रेटर नोएडा के गौर सिटी टू के टावर जी के फ्लैट नंबर 1446 में मां अंजलि और बेटी की हत्या कर दी गई थी। पुलिस को घटनास्थल के पास से खून में सना एक क्रिक्रेट बैट और धारदार हथियार मिला था। इस वारदात के बाद से ही 15 साल का बेटा गायब था।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ई-पेपर