comScore
Dainik Bhaskar Hindi

पलक झपकते ही ATM कार्ड बदल कर कैश उड़ा देता था यूपी का गिरोह

BhaskarHindi.com | Last Modified - January 12th, 2019 18:48 IST

2.9k
1
0
पलक झपकते ही ATM कार्ड बदल कर कैश उड़ा देता था यूपी का गिरोह

डिजिटल डेस्क, रीवा। एटीएम फ्रॉड करने वाला गिरोह पुलिस की गिरफ्त में आया है। यूपी के इस गिरोह ने रीवा और सतना में लोगों के एटीएम बदल कर उनके खाते से पैसे निकाले हैं। रीवा के प्रभारी पुलिस अधीक्षक आशुतोष गुप्ता ने खुलासा करते हुए बताया कि रतहरा निवासी शिवेंद्र चतुर्वेदी ने 8 जनवरी को समान तिराहा स्थित यूनियन बैंक के एटीएम बूथ से रुपए 10000 निकाले। जिस समय वे पैसे निकाल रहे थे कुछ युवक भी वहां मौजूद थे। इन युवकों ने बड़ी ही चालाकी से शिवेंद्र का एटीएम कार्ड बदल लिया। एटीएम कार्ड बदले जाने की जानकारी से बेखबर शिवेंद्र के होश उस समय उड़ गए जब उनके खाते से पैसे निकलने का मैसेज मोबाइल पर आया।

एटीएम से रुपए 30000 निकलने की शिकायत लेकर वे समान थाना पहुंचे। पुलिस ने जांच शुरू की और फुटेज के आधार पर आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास किया। पुलिस ने समान तिराहा के समीप से तीन संदेही युवकों को पकड़ा और उनसे पूछताछ करने पर इस एटीएम फ्रॉड का खुलासा हो गया। इन युवकों द्वारा अपने दोनों साथियों के नाम भी बताए गए, जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

ये हैं आरोपी
एटीएम फ्रॉड के आरोप में जिन पांच युवकों को पकड़ा गया है, उनमें भावेश सिंह, अश्वनी सिंह, अंगद यादव और रोशन सिंह आजमगढ़ के रहने वाले हैं। जबकि आरोपी आनंद सिंह जौनपुर का निवासी है। इस तरह यह पांचों आरोपी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। अभी तक की पूछताछ में रीवा और सतना में इनके द्वारा एटीएम फ्रॉड किए जाने की जानकारी सामने आई है पुलिस और भी जानकारी जुटा रही है।

इस तरह करते थे काम
एटीएम फ्रॉड करने वाला यह गिरोह काफी शातिर अंदाज से अपना काम करता था। जब कोई व्यक्ति एटीएम बूथ से पैसा निकालता था, उसी समय इस गिरोह का एक सदस्य वहां पहुंचकर बड़ी ही चालाकी से एक ऐसी बटन दबाता था, जिससे मशीन हैंग हो जाती थी। मशीन हैंग होने के बाद पैसा निकालने पहुंचा व्यक्ति बार-बार कैश निकालने के लिए प्रक्रिया करता था। इस दौरान गिरोह के सदस्य पिन नंबर जान जाते थे और बड़ी ही चालाकी से कार्ड बदलकर वहां से रफूचक्कर हो जाते थे।

11 कार्ड बरामद
आरोपियों के पास से पुलिस ने 11 एटीएम कार्ड बरामद किए हैं। इन आरोपियों ने एटीएम से खरीदारी भी की है। इनके पास सोने की चार अंगूठी मिली हैं। चार मोबाइल भी इनसे जब्त किए गए हैं, इसके अलावा ?54000 नगद बरामद हुए हैं। आरोपियों के पास एक कार भी है जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है।

परिजनों के खाते किए होल्ड
पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि इन लोगों ने काफी पैसा परिजन के खाते में डाला है। पुलिस ने इस वजह से इनके परिजनों के खाते होल्ड कर दिए हैं। पुलिस का मानना है कि इनसे अभी और भी खुलासे होंगे। पुलिस यह भी पता करने का प्रयास कर रही है कि रीवा और सतना सहित अन्य किन जिलों में इनके द्वारा कितने फ्रॉड किए गए हैं।

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

ये भी देखें
Survey

app-download