comScore
Election 2019

पुलिस के संरक्षण में बिक रहा था गांजा, पांच तस्कर गिरफ्तार, थाना प्रभारी लाइन अटैच

पुलिस के संरक्षण में बिक रहा था गांजा, पांच तस्कर गिरफ्तार, थाना प्रभारी लाइन अटैच

डिजिटल डेस्क, उमरिया। थाने से चंद कदमों की दूरी पर बने एक मकान से गांजा की तस्करी की जा रही थी। थाना की पुलिस को लगतार सूचना दिए जाने के बाद भी आरोपी तस्करों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा था। एसपी स्क्वॉड को जैसे ही सूचना मिली मौके पर पहुंचकर गांजा के साथ आरोपी तस्करों को हिरासत में लिया है। वहीं थाना प्रभारी की भूमिका संदिग्ध पाये जाने पर उसे एसपी द्वारा लाइन अटैच किया गया है। कार्रवाई से पूरे महकमे में हड़कंप की स्थिति निर्मित रही।

कार्रवाई से मचा हड़कंप-
नौरोजाबाद में एसपी स्क्वॉड की टीम ने गांजा तस्करों पर बड़ी कार्रवाई की गई है। बाजारपुरा निवासी ओमप्रकाश के घर से गांजा की 80 पुड़िया वजन 5 किलो 500 ग्राम कीमत 27 हजार रुपए जब्त किया गया है। प्रकरण में आरोपित युवक सहित पत्नी व अन्य कुल पांच के विरुद्ध एनटीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई की है। कार्रवाई के बाद नौरोजाबाद थाने की गतिविधियां संदिग्ध पाए प्रतीत होने पर एसपी ने थाना प्रभारी राम कुमार धारिया को लाइन अटैच कर दिया है।

मुखबिर से मिली सूचना पर वरिष्ठ अधिकारियों ने की कार्रवाई-
एसडीओपी अरविंद तिवारी ने बताया नौरोजाबाद में लंबे समय से मुखबिर द्वारा गांजा तस्करी की सूचना मिल रही थी। रात करीब 9.30 पुलिस अधीक्षक को गांजा की पुख्ता सूचना मिली। उनके निर्देशन में एसपी स्क्वॉड की टीम ने घेराबंदी कर ओम प्रकाश गुप्ता निवासी बाजारपुरा के मकान में छापेमारी की। जब तक पुलिस भीतर पहुंचती ओम प्रकाश अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गया। घर में उसकी पत्नी उमा गुप्ता, पुत्र प्रिंस, अंशु, मन्नू उर्फ मनीराम यादव निवासी छांदा उपस्थित मिले। संदेही उमा गुप्ता पति ओम प्रकाश गुप्ता (40) वर्ष से कानूनी अधिकारों के तहत तलाशी पंचनामा तैयार कर कार्रवाई शुरू हुई।

थैले के अंदर में थे गांजे के पैकेट-
मकान में पूर्व दक्षिण वाले कमरे के अंदर एक प्लास्टिक का पुराना झोला मिला। संदेहास्पद की स्थिति में सामान की सूंघ कर मादक पदार्थ के रूप में पुष्टि की गई। गांजा झोले के अंदर चार प्लास्टिक के पालीथीन में अलग अलग गांजा भरा गया। काले रंग की पालीथीन में कागज से लिपटी हुई गांजा की 80 पुड़िया पाई गई। जिसका तौल कराते हुए पंचनामा तैयार कर आरोपी गण उमा गुप्ता, अंशू गुप्ता, मन्नू उर्फ मनीराम यादव की निशादेही में प्राप्त  होना पाया गया। वजन पर इसकी मात्रा 5 किलो 500 ग्राम कीमत 27 हजार 500 रुपए होना मिला है।

हुई सीलबंद की कार्रवाई-
पुलिस ने कार्रवाई करते हुए जब्ती उपरांत गांजा में से दो पैकेट बतौर सैंपल निकाला गया। इसके साथ ही बरामद शुदा मादक पदार्थ गांजा आरोपियों के कब्जे से पेश करने पर वजह सबूत में अवैध मादक पदार्थ गांजा पांच किलो 300 ग्राम व सैंपल 100-100 ग्राम कुल वजनी पांच किलो 500 ग्राम कीमत 27 हजार 500 रुपए की सील बंद कार्रवाई हुई। इस तरह चार पालीथीन में मिले 80 पुड़िया अखबार के टुकड़े में मिला था, जिसकी बिक्री कीमत 7210 रुपए थी को भी सील कर दिया गया।

इनको किया गया गिरफ्तार-
कार्रवाई के दौरान आरोपित ओम प्रकाश गुप्ता पिता भोला गुप्ता, उमा पति ओमप्रकाश गुप्ता, प्रिंस पिता ओमप्रकाश गुप्ता, अंशू पिता ओमप्रकाश गुप्ता, चारों निवासी वार्ड नंबर पांच नौरोजाबाद एवं मन्नू उर्फ मनीराम यादव पिता मोतीलाल यादव निवासी छांदाखुर्द के विरूद्ध अपराध दर्ज किया गया है। गिरफ्तारी के दौरान प्रिंस गुप्ता के पास से एक जिंदा कारतूस भी मिला है। आरोपित के विरुद्ध आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही थी।

इनका कहना है-
बाजारपुरा में 5 किलो 500 ग्राम गांजा पकड़ा गया है। पांच आरोपियों के विरुद्ध कायमी की जा रही है। नौरोजाबाद थाना में कानून व्यवस्था के दृष्टिगत रखते हुए टीआई रामकुमार धारिया केा लाइन अटैच कर दिया गया है।
सचिन शर्मा, पुलिस अधीक्षक उमरिया

Loading...
कमेंट करें
0CTZR
Loading...