comScore

भाभी और तीन साल की मासूम भतीजी की हत्या कर डेडबॉडी से किया रेप

December 01st, 2018 00:28 IST
भाभी और तीन साल की मासूम भतीजी की हत्या कर डेडबॉडी से किया रेप

डिजिटल डेस्क, वाड़ी (नागपुर)। भाभी और तीन साल की मासूम भतीजी की हत्या कर शव के साथ रेप करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मानवता को कलंकित करने वाली घटना  वाड़ी थाना अंतर्गत सुराबर्डी तकिया में उजागर हुई। इसके साथ ही पुलिस ने मां-बेटी की हत्या की गुत्थी भी सुलझा ली  है। बताया जाता है कि भाभी अन्य समाज की होने से देवर नाराज था, इस कारण उसने  भाभी और मासूम भतीजी की हत्या कर दी। हालांकि पैतृक संपत्ति को लेकर भी हत्या किए जाने की जानकारी मिली है। बुधवार की शाम करीब 7 बजे सुराबर्डी के तकिया परिसर में रहने वाली प्रतिभा राकेश बिंद (28) व रागिनी (3) अपने घर पर पलंग में मृत अवस्था में पाई गई थी। घटना की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ पीआई नरेश पवार, पीएसआई प्रशांत देशमुख दलबल सहित मौके पर पहुंचे। शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल भेज दिया। पहले आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया गया था, पहले चर्चा थी गला दबाने से मौत हुई है लेकिन अब शव के साथ रेप किए जाने की चर्चा  है।

किराएदार महिला के पहुंचने से हुआ खुलासा
रकेश के घर पर एक चाय की टपरी चलाने वाली महिला किराए से रहती है। बुधवार की शाम करीब 6.30 बजे जब महिला वापस लौटी, तो उसे घर में अंधेरा और बाहर से दरवाजा बंद नजर आया। आवाज देने पर कोई जवाब नहीं मिलने के बाद उसने पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाया। बावजूद इसके कोई प्रतिसाद नहीं मिलते देख वाड़ी पुलिस स्टेशन में सूचना दी गई। सूचना मिलने पर पीआई नरेश पवार दलबल के साथ पहुंचे। घर का दरवाजा तोड़ने पर मां-बेटी पलंग पर मृत अवस्था में पाई गईं। क्राइम ब्रांच पुलिस ने रात में ही आरोपी देवर चंद्रशेखर बिंद को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया।

राकेश बिंद मूलत: गंगारामपुर, जिला भदोही, उत्तर प्रदेश का निवासी है। अन्य समाज की प्रतिभा से राकेश ने दूसरी शादी की, इसके बाद वह पत्नी को लेकर सुराबर्डी में रहने आ गया। प्रतिभा अन्य समाज की होने से राकेश के परिजन भी उसे पसंद नहीं करते थे। राकेश की बहन का देहांत होने के बाद उसके माता-पिता गांव लौट गए और चंद्रशेखर जरीपटका, नागपुर में रहने लगा। सुराबर्डी का घर हथियाने के इरादे से उसने मां-बेटी की हत्या करने का कयास भी लगाया जा रहा है।

तीन दिन पहले जालना में था पति

राकेश पेशे से ट्रक चालक है। वह ज्यादातर घर से बाहर ही रहता है। तीन दिन पहले भी वह जालना गया था। घटना के दिन पत्नी से बात करने के बाद वह सोया था कि उसे बेटी और बीबी की मौत की खबर मिली। भाई के ज्यादातर बाहर रहने की जानकारी आरोपी चंद्रशेखर को थी। इससे बुधवार को दोपहर में ही आसानी से अपने इरादे को अंजाम देकर वह फरार हो गया था। वापस लौटने के बाद राकेश को भी संदेह के आधार पर हिरासत में लिया गया है।  आगे की जांच वाड़ी पुलिस कर रही है।

कमेंट करें
NtkUF