comScore

IPL के फाइनल मैच में लग रहा था लाखों का सट्टा, दो सटोरिये गिरफ्तार

IPL के फाइनल मैच में लग रहा था लाखों का सट्टा, दो सटोरिये गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, बालाघाट। आईपीएल के फाइनल मैच में टीमों की जीत और हार पर लाखों रुपए के दांव लगाए जा रहे थे। एक घर में चल रहा आईपीएल सट्टा की खबर जैसे ही पुलिस को लगी, मौके पर पहुंचकर दो सटोरियों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपियों के पास से चार लाख रुपए से अधिक राशि बरामद की है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रहे हैं, जिसके बाद और भी आरोपियों के पकड़े जाने की संभावना है।  

मकान में लग रहे थे दांव-
उल्लेखनीय है कि 12 मई को श्रंखला के फाइनल मैच में लाखों का सट्टा लगने की संभावना के चलते पुलिस बड़ी ही गोपनीयता के साथ इन सटोरियों की धरपकड़ के लिए दबिश दी। पुलिस को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि मध्यप्रदेश-महाराष्ट्र सीमा से लगे रजेगांव में गजानंद पेंढारकर नामक व्यक्ति के मकान में आईपीएल मैच का सट्टा चल रहा है। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया के मार्गदर्शन व नगर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र यादव के निर्देशन में गठित पुलिस टीम ने कोतवाली थाना प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर के नेतृत्व में रजेगांव चौकी प्रभारी रितेश पांडे के साथ दबिश दी।

इस दौरान पुलिस टीम ने गजानंद पेंढारकर पिता कुशनाजी पेंढारकर उम्र 44 वर्ष व अखिलेश डायरे उम्र 35 वर्ष दोनो ही निवासी रजेगांव को आपीएल का सट्टा लिखते पकड़ा गया।वही इनके कब्जे से 4 लाख 80 हजार रुपए नगद, 6 मोबाईल एक टीवी, रिमोट एवं सट्टे का हिसाब किताब लिखे 3 रजिस्टर जब्त किए हैं।

दोनों के खिलाफ मामला दर्ज-
दोनो ही आरोपियों के खिलाफ़ विभिन्न धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। कोतवाली पुलिस थाने में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में मामले का खुलासा करते हुए नगर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र यादव ने बताया कि पकड़े गए दोनों ही आरोपियों को मंगलवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।वही मामले में अन्य व्यक्तियों के शामिल होने की भी जांच की जा रही है।

इनकी रही महत्वपूर्ण भूमिका-
पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया के मार्गदर्शन में एवं नगर पुलिस अधीक्षक देवेंद्र यादव के निर्देशन में हुई उक्त कार्यवाही में कोतवाली थाना प्रभारी महेंद्र सिंह ठाकुर,उपनिरीक्षक रितेश  पांडे, उपनिरीक्षक विजय सिंह सिसोदिया, एएसआई कमलेश तिवारी, प्र.आ.प्रभुदयाल कानतोड़ें,आरक्षक गुलाब सिंह,नंदू लिल्हारे,पवन कुशवाह,हेमंत चौहान,अतुल बोपचे की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

कमेंट करें
K6Fhf