comScore

5 मिनट में मोबाइल व वाहन पार करने वाला बच्चा गैंग पकड़ाया

March 15th, 2019 14:41 IST
5 मिनट में मोबाइल व वाहन पार करने वाला बच्चा गैंग पकड़ाया

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  5 मिनट में मोबाइल व वाहन चोरी करने वाले बच्चा गैंग का पुलिस ने पर्दाफाश किया।  चोरी की बाइक बेचने निकले एक वाहन चोर को पुलिस ने दबोचा तो एक के बाद एक कड़ी खुलती गई। आरोपी के पकड़े जाने के बाद इमामवाड़ा पुलिस ने मोबाइल और वाहनों की चोरी करने के लिए बनाई गई 'बच्चा गैंग' का पर्दाफाश किया। यह बच्चा गैंग 5 मिनट में वाहन उड़ाने में बड़ा माहिर है। इस गिरोह के चार सदस्यों को भी पुलिस ने पकड़ा है। आरोपियों से 8 दोपहिया वाहन और 11 मोबाइल सहित करीब 4 लाख रुपए का माल जब्त किया गया है। यह जानकारी पुलिस परिमंडल क्र.-4 के उपायुक्त राजतिलक रोशन ने  इमामवाड़ा थाने में आयोजित पत्र परिषद में दी। 

राह चलते उड़ाते थे मोबाइल
उपायुक्त ने बताया कि यह आरोपी राह चलते माेबाइल पर बात करने वालों का मोबाइल छीन कर फरार हो जाते थे। दूसरे आरोपी मौका पाकर वाहन चोरी करते थे। 12 मार्च को अनिकेत अपार्टमेंट, इमामवाड़ा निवासी वैभव गुलाबराव देशमुख (21) का दोपहिया चुराकर आरोपी फरार हो गए थे। इमामवाड़ा थाने में इस मामले की शिकायत वैभव ने दर्ज कराई। थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक  मुकुंदा सालुंके ने इस मामले के आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस उपनिरीक्षक नवनाथ पाटवदकर, हवलदार परमेश्वर कडू, रामेश्वर कडवे, श्रीकांत ठाकुर, अनंता बुरडे, शरद चव्हाण, सिपाही  बालू गिरि, राहुल झाडे, सुशील रेवतकर, विजय भोयर और किशोर येऊल को खोजबीन करने का आदेश दिया। पुलिस के इस दस्ते ने गत दिनों रात करीब 11 बजे चेतन मदनलाल सूर्यवंशी (20), बिनाकी मंगलवारी, कांजी हाउस चौक निवासी को चोरी के वाहन के साथ पकड़ा। चेतन ने अपने साथी कपिल प्रेमदास धारगावे (19), बिनाकी मंगलवारी और अबोध देवानंद निमगडे (19), यशोधरा नगर निवासी का नाम उजागर किया। इन आरोपियों ने पुलिस को इमामवाड़ा में 2, सदर में 1, गणेशपेठ में 1 और  सक्करदरा थानांतर्गत मोबाइल चोरी की 1 घटना को अंजाम देने की बात कबूल की। इन आरोपियों ने नागपुर रेलवे स्टेशन से 4 मोबाइल चुराने की बात कबूल की। इन तीनों लुटेरों ने 11 महंगे मोबाइल सहित करीब 1.50 लाख रुपए का माल चुराया था। 

मोबाइल चोरों की निशानदेही पर वाहन चोर पकड़े
इन चोरों में से एक ने पुलिस रिमांड के दौरान यशोधरा नगर में शुभम उत्तम सोनवणे (20), नामक युवक और उसके वाहन चोरों के गिरोह की जानकारी दी। इनकी निशानदेही पर शुभम को धरदबोचा। उसने तीन विधि संघर्षग्रस्त बच्चों को अपने साथ लेकर वाहन चोरी करने की बात कबूल की। इन आरोपियों ने यशोधरा नगर, तहसील और इमामवाड़ा परिसर से  3, सदर, गिट्टीखदान, पांचपावली, यशोधरा नगर, धंतोली परिसर से 5 दोपहिया वाहन सहित करीब ढाई लाख रुपए का माल बरामद किया गया है। 

डुप्लीकेट चाबी से उड़ाते थे वाहन
उपायुक्त रोशन ने बताया कि, डुप्लीकेट चाबी का उपयोग कर यह गिरोह वाहन चोरी करता था। गिरोह ने एक दोपहिया वाहन चुराने के बाद उसे एक कबाड़ी बेच दिया था। उसके बाद इनकी करतूत सामने आई। आरोपी शुभम ने जिन तीन विधि संघर्षग्रस्त बच्चों का ‘बच्चा गैंग’ बना रखा था, वह तीनों बच्चे 8वीं व 9वीं कक्षा में पढते हैं। पत्र परिषद में सहायक पुलिस आयुक्त घार्गे, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मुकुंदा सालुंके आदि  उपस्थित थे। 

शुभम ने कम उम्र के बच्चों को पैसे मिलने का लालच देकर उन्हें शातिर वाहन चोर बना दिया। यह केवल 5 मिनट में वाहन चोरी कर फरार हो जाने में माहिर हैं। शुभम और उसकी बच्चा गैंग के कब्जे से 7 दोपहिया वाहन  जब्त किया गया। तीनों बालकों को सुधारगृह भेज दिया गया है। शुभम ने वाहन चोरी में 50 प्रतिशत पैसे देने का लालच देकर उन्हें अपने गिरोह में शामिल किया था।

चाकू दिखाकर फिल्म अभिनेता व इंजीनियर का मोबाइल छीना था
सूत्रों ने बताया कि इस मामले को सुलझाने में साइबर सेल के सिपाही दीपक तारहेकर व मिथुन नाईक का भी अहम योगदान है। इन आरोपियों से फिल्म अभिनेता किशोर शिंदे, गडचिरोली के इंजीनियर दिलीप पवार और एक महिला एडवोकेट के पति का मोबाइल भी जब्त किया गया है, जिसे इन आरोपियों ने चुराया था। सक्करदरा थानांतर्गत राज्य कामगार बीमा अस्पताल के पास फिल्म अभिनेता शिंदे और इंजीनियर पवार को चाकू दिखाकर उनसे माल छीना था। अभिनेता को लिफ्ट देने के बहाने राज्य कामगार बीमा अस्पताल परिसर में ले गए और वहां पर उसे चाकू दिखाकर उससे मोबाइल व उसका पर्स छीन लिया था।

Loading...
कमेंट करें
yLIlU
Loading...