comScore

पुलिस हाउसिंग बोर्ड का सब इंजीनयर 10 हजार लेते गिरफ्तार

पुलिस हाउसिंग बोर्ड का सब इंजीनयर 10 हजार लेते गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, रीवा। पुलिस हाउसिंग बोर्ड के एक सब इंजीनियर को लोकायुक्त की टीम ने दस हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है। सब इंजीनियर द्वारा रिश्वत की यह रकम जिले के दो थाना परिसर में महिला डेस्क के भवन निर्माण की राशि भुगतान पर बतौर कमीशन ली गई। लोकायुक्त कार्यालय रीवा में सब इंजीनियर आलोक पाण्डेय के विरूद्ध ठेकेदार प्रकाश पटेल पिता श्रीनिवास पटेल ठेकेदार निवासी ग्राम सोनौरा जिला रीवा द्वारा शिकायत की गई थी।  लोकायुक्त एसपी द्वारा शिकायत की तस्दीक कराई गई। शिकायत सही पाए जाने पर ट्रेप की योजना बनाई गई और न्यू बस स्टैण्ड क्षेत्र में पेट्रोल पम्प के समीप आज  सब इंजीनियर आलोक पाण्डेय को  रिश्वत लेते दबोच लिया गया।

भुगतान शुरू होते ही आठ प्रतिशत की डिमाण्ड

मनगवां एवं लौर थाना परिसर में पुलिस हाउसिंग बोर्ड द्वारा महिला डेस्क का निर्माण कराया जा रहा है। यह कार्य 4 लाख 99 हजार रूपये का है। जानकारी के अनुसार पहली किश्त और दूसरी किश्त के रूप में ठेकेदार को 1 लाख 35 हजार 276 रूपये का भुगतान हो चुका है।   ठेकेदार प्रकाश पटेल ने लोकायुक्त कार्यालय में शिकायत की थी कि पुलिस हाउसिंग कॉरपोरेशन के परियोजना यंत्री कार्यालय में पदस्थ उपयंत्री आलोक पांडे द्वारा कराए गए कार्य के पूर्व के भुगतान की राशि 1 लाख 35 हजार 276 रूपये का आठ प्रतिशत  जो लगभग 11 हजार रूपये होता है, कमीशन की मांग की जा रही है वह उन्हें रिश्वत देना नहीं चाहता। शिकायत की तस्दीक उपरांत आरोपी द्वारा शिकायतकर्ता से 10 हजार रूपये रिश्वत की मांग किए जाने की बात सामने आई। जिस पर आरोपी के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध कर 10 हजार रूपये की  रिश्वत लेते  पेट्रोल पंप रीवा के पास पकड़ा गया ।

इनका कहना है

पुलिस हाउसिंग बोर्ड के सब इंजीनियर के विरूद्ध रिश्वत मांगने की शिकायत हुई थी। यह शिकायत सही पाए जाने पर ट्रेप कार्यवाही की योजना बनाई गई। महिला डेस्क के निर्माण कार्य की राशि के भुगतान के बदले दस हजार रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया है । राजेन्द्र वर्मा, एसपी लोकायुक्त
 

कमेंट करें
7iHsU