comScore

मरीजों को नशीली दवा बेचता था झोलाछाप डॉक्टर, पुलिस ने क्लीनिक पर मारा छापा

February 13th, 2019 23:13 IST
मरीजों को नशीली दवा बेचता था झोलाछाप डॉक्टर, पुलिस ने क्लीनिक पर मारा छापा

डिजिटल डेस्क, छतरपुर। नशीली दवाओं की चोरी छिपे बिक्री  करने वालों के खिलाफ पुलिस द्वारा अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है। बुधवार को सिविल लाइन पुलिस ने सिचाई कालोनी स्थित एक तथाकथित चिकित्सक के क्लीनिक में छापामार कार्रवाई करते हुए एक दर्जन कोरेक्स की शीशी बरामद करते हुए क्लीनिक संचालक डॉ. योगेंद्र नायक पिता मुरलीधर नायक को गिरफ्तार किया।

शिकायत पर पहुंची पुलिस
पुलिस का कहना है कि पिछले कई दिनों से शिकायत मिल रही थी कि सिचाई कोलोनी में कुछ लोगों द्वारा चोरी छिपे प्रतिबंधिक और नशीली दवाएं बेची जा रही है। बुधवार को भी सिविल लाइन थाना प्रभारी विनायक शुक्ला को मुखबिर से सूचना मिली कि तथाकथित झोलाछाप चिकित्सक अपने क्लीनिक से नशीली दवाएं थोक के भाव बेच रहा है। सूचना के बाद पुलिस ने झोलाछाप चिकित्सक के क्लीनिक में छापामारकर उसे हिरासत में लिया।

युवा पीढ़ी हो रही शिकार
शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में कुकरमुत्ते की तरह फैले झोलाछाप डॉटर बड़े पैमाने पर प्रतिबंधित और नशीली दवाओं की बिक्री कर रहे हैं। आसानी से नशीली दवाएं मिल जाने से युवा पीढ़ी नशे की गिरफ्त में आ रही है। बताया जा रहा है कि शहरी क्षेत्र में हर गली मोहल्ले में झोलाछाप डॉक्टर अपनी दुकाने खोल कर बैठे हैं। इनके खिलाफ स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्रवाई न किए जाने से इनका धंधा जोरों से फल फूल रहा है।

स्वास्थ्य विभाग बच रहा कार्रवाई से
झोलाछाप डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई करने की जिम्मेदारी जिले के स्वास्थ्य विभाग के पास है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग आज तक झोलाछाप चिकित्सों की न तो जांच करता है और न उनके खिलाफ किसी तरह की कार्रवाई करता है। जबकि शासन के स्पष्ट निर्देश हैं कि झोलाछाप डाक्टरों के खिलाफ अभियान चलाकर जांच कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।

जारी रहेगी कार्रवाई
सिविल लाइन थाना पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई के बाद एएसपी जयराज कुबेर का कहना है कि प्रतिबंधित दवाएं बेचने वालों के खिलाफ सतत रुप से कार्रवई जारी रहेगी। उनका कहना है कि पूर्व में सभी दवा विक्रेताओं को क्लीनिक संचालकों को हिदायत दी गई थी कि वे प्रतिबंधित और नशीली दवाएं किसी भी सूरत में न बेंचे। इस कार्रवाई में सिविल लाइन थाना प्रभारी विनायक शुक्ला और उनकी टीम शामिल रही।

कमेंट करें
Y23op